संसू, हाथरस : सर्दी बढ़ते ही पशु चोर सक्रिय हो गए हैं। गिरोह ने बुधवार रात गांव चांदनपुरा में धावा बोला। सक्रिय लोगों ने दो लोगों के छह मवेशी खोल लिए। इसी बीच जगार होने पर ग्रामीणों ने घेराबंदी की तो शातिर मवेशियों को छोड़कर भाग जाने में सफल हो गए। ग्रामीणों ने रात में गस्त बढ़ाते हुए इस गिरोह का खुलासा करने की मांग की।

गांव चांदनपुरा निवासी भगवान सिंह बुधवार की रात घर के बाहर घेर में अपने मवेशियों के पास सो रहे थे। उसी दौरान देर रात हथियारों से लैस आधा दर्जन पशु चोरों ने पशु पालक को दबोच लिया और उसके ऊपर तमंचा तान दिया। पशु चोर पीड़ित पशु पालक की तीन पड़िया खोलकर ले गए। वहीं वीरसहाय के घर के बाहर घेर में बंधी तीन पड़िया को भी पशु चोर खोल कर ले गए। पीड़ित पशु पालकों के शोर मचाने पर गांव में जगार हो गई। ग्रामीणों ने पीछा किया तो चोर फायरिग करते हुए भाग गए। सूचना पीआरवी को दी गई।

इससे पहले मंगलवार की रात्रि को पशु चोरों ने गांव बरईशाहपुर में भी धावा बोला था, जिसमें ग्रामीणों ने पीछा करके दो पशु चोरों को दबोच लिया था। अदालत के आदेश पर रिपोर्ट

संसू, सादाबाद : क्षेत्र के गांव महावतपुर निवासी दिनेश कुमार सागर एडवोकेट पुत्र फूल सिंह ने न्यायालय के आदेश पर गांव के ही सर्वेश, तुलसीदास, पिटू, अनूप, भूरी सिंह, भोलाशंकर, पप्पू उर्फ जगदीश, मनवीर के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। बताया है कि 26 दिसंबर 20 को सुबह 8 बजे वे अपने प्लॉट की ओर जा रहे थे। प्लॉट पर पहुंचे उपरोक्त लोग ईंट डाल रहे थे। मना किया तो सभी ने एक राय होकर गाली-गलौज की। शोर सुनकर उनके भाई की पत्नी मौके पर आ गई तो सभी हमलावर हो गए। वे घर में भागे तो हमलावरों ने घर में घुसकर भाई की पत्नी को पीटा। गांव के लोगों ने उन्हें बचाया।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021