संसू, बंदगांव : कराईकेला थाना के ब्राह्मण टोला स्थित आंगनबाड़ी केंद्र में पारिवारिक परामर्श केंद्र एवं 16 महिला मंडल समिति की बैठक सम्पन्न हुई। बैठक में केंद्र के सचिव राजेश तिवारी ने कहा कि कराईकेला वासियों के लिए परिवारिक परामर्श केंद्र काफी मददगार साबित हो रहा है। उन्होंने कहा यहां सभी तरह के परिवारिक विवादों का निपटारा किया जाएगा। साथ ही महिला एवं पुरुषों को न्यायालय द्वारा लागू किए गए कानूनी जानकारी दी जा रही है। महिलाओं पर संकट के समय मदद करने, दहेज के कारण होने वाली मौतों की स्वतंत्र जांच करने और परिवार में समायोजन न होने पर परामर्श देने संबंधी विशेषज्ञ सेवाएं प्रदान करना इस केंद्र का कार्य है। इसके अलावा अलगाव के मामलों में सुलह कराने तथा वैवाहिक मामलों को न्यायालय के बाहर निपटाने का प्रयास करना हमारा कार्य है। उन्होंने कहा अल्पावास गृहों, निश्शुल्क कानूनी सहायता प्रकोष्ठों, पुलिस सहायता आदि जैसी रेफरल सेवाएं प्रदान करना है। अल्पावास गृहों, रिमांड होम्स, अनाथालयों, नशामुक्ति केंद्रों, वृद्धावस्था आश्रमों, आश्रय गृहों, जेलों, गिफ्टेड चिल्ड्रन के स्कूलों इत्यादि में परामर्श सेवाएं उपलब्ध कराना है। सामाजिक समस्याओं के बारे में जनमत तैयार करना, समाज कल्याण की उन गतिविधियों के बारे में शिक्षा और सूचनाएं देना जो बेहतर समन्वय और जनता को सेवाएं प्रदान करने के लिए विभिन्न सरकारी और गैर-सरकारी अभिकरणों द्वारा सहायता-प्राप्त हैं। व्यक्ति विशेष की किसी समस्या के निपटान के लिए हस्तक्षेप करने संबंधी सेवाएं प्रदान करना है। बैठक में मां केरा, मां सन्तोषी, तुलसी, मां सरस्वती अजीविका महिला मंडल, मां वैष्णो, मां समलेश्वरी महिला मंडल समेत कुल 16 महिला मंडल के सदस्य उपस्थित रहे। इस अवसर पर केंद्र के अध्यक्ष उत्तरा मुखी, रति महापात्रो, सुकेशी देवी, हसीना बेगम, चित्रा डे, तहरुण खातून, मेहरून खातून, कौशिक डे, लतिका प्रजापति, शिल्पा प्रजापति, माधुरी नायक, चंद्रवती नायक समेत अन्य महिला उपस्थित रही।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस