संवाद सहयोगी, जालौन : ग्राम अकोढ़ी दुबे में संचालित अस्थायी गोशाला में सर्दी व भूख से गायों की मौत के बाद प्रशासन की नींद टूटी। टीम ने गोशाला पहुंचकर भूखे जानवरों को चारा खिलाया तथा सर्दी से बचाव के लिए गुड़ अजवाइन खिलाई।

कोहरे के साथ चली शीत लहर के कारण अकोढ़ी दुबे में संचालित गोशाला में गुरुवार को 1 तथा शुक्रवार को 2 गायों की मौत हो गई थी। सर्दी व भूख से हो रही गायों की मौत की खबर को जागरण ने शनिवार व रविवार को प्रमुखता से उठाया था। जागरण की पहल का असर हुआ तथा एडीओ पंचायत महेश पाल, सचिव देवशरण मौके पर पहुंचे। टीम ने मौके पर पहुंचकर गोशाला में मौजूद गायों के खाने के लिए भूसे की व्यवस्था की तथा सर्दी से बचाव के लिए तिरपाल लगवाने को कहा। गायों को शीत लहर से बचाव के लिए गुड़ व अजवाइन खिलाई। गोशाला में मौजूद गायों के खाने पीने की व्यवस्था के साथ उन्हें दिन में चराने के लिए 2 लोगों की ड्यूटी लगा दी गई है। साफ सफाई के लिए सफाई कर्मी राजू की ड्यूटी लगाई गई है। सचिव देवी शरण सोनी ने बताया कि गोशाला का संचालन ठीक से हो इसके लिए जिम्मेदारी निर्धारित कर दी है। अब दिक्कत नहीं होगी।

---------------------

गोशालाओं का बीडीओ ने किया निरीक्षण

रविवार को बीडीओ महिमा विद्यार्थी ने ग्राम छिरिया सलेमपुर, औरेखी व सालाबाद में संचालित गोशालाओं का निरीक्षण किया तथा सचिव व प्रधान को निर्देश दिए कि वह जानवरों के भूसा की पर्याप्त व्यवस्था रखें तथा कर्मचारी लगातार गोशाला की सफाई के साथ जानवरों को पानी पिलाने की व्यवस्था कर दें। अगर जानवर कोई बीमार हो तो उसकी जानकारी पशु चिकित्सालय में देकर इलाज सुनिश्चित कराएं। इस मौके पर सचिव मनीष निरजंन, प्रधान औरेखी गिरीश श्रीवास्तव, छिरिया सलेमपुर कामता प्रसाद, मानसिंह पाल, सालाबाद जमुना देवी समेत ग्रामीण उपस्थित रहे।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस