- 6 फीट हो गयी है लम्बाई

- बार-बार बर्थ को जोड़ने के झंझट से मिला छुटकारा

झाँसी : नये साल में हबीबगंज से चलकर झाँसी के रास्ते ह़जरत नि़जामुद्दीन जाने शान-ए-भोपाल एक्सप्रेस में सफर करने वाले यात्रियों को बड़ा बदलाव देखने को मिला है। यात्रियों को आरामदायक यात्रा देने के लिए रेलवे ने ट्रेन की साइड लोअर बर्थ में बड़ा बदलाव किया है। शान-ए-भोपाल एक्सप्रेस की लोअर बर्थ अब पहले की तरह नहीं रही है। इस ट्रेन में नए लिंक हॉफमैन बुश (एलएचबी) कोच लगा दिए गए हैं। जर्मन तकनीकि से बनाए गए यह कोच पुराने कोच की अपेक्षा लम्बाई में भी बड़े हैं, जिससे साइड लोअर बर्थ 6 फीट की हो गई है।

रेलवे ने इस ट्रेन के लिए 45 एलएचबी कोच दिए गए हैं, जिसमें से हर रैक में 22 कोच लगाए गए हैं। यह कोच पहले के मुकाबले काफी सुविधाजनक हैं। इसके साथ ही इन कोच में बैठकर सफर करने पर यात्रियों को नया अनुभव मिल रहा है। अब रेल यात्री साइड लोअर बर्थ की गद्दीदार स्लाइडिंग बर्थ को हटा सकेंगे। आपको बता दें यह ट्रेन अभी तक इण्टिग्रल कोच फैक्ट्रि (आइसीएफ) चेन्नई द्वारा तैयार किए गए कोच से चल रही थी, जो सालों पुराने थे।

फोल्डिंग बर्थ में यात्रियों को होती थी परेशानी

अभी तक पुराने कोच में फोल्डिंग वाली बर्थ का इस्तेमाल होता था। इस बर्थ में यात्रियों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता था। इसके अलावा यात्रियों को कमर दर्द से जुड़ी समस्याओं का भी सामना करना पड़ता था।

0 ऐसी है नई साइड लोअर बर्थ

नये कोच में आपको गद्दीदार सीट की सुविधा मिलेगी। यह सीट 6 फीट लम्बी है। आप इसको फोल्डिंग बर्थ के उपर रखकर आराम से सो सकते हैं। जब आपको बैठना है तो इसे साइड में कर आराम से बैठा जा सकता है।

फाइल : वसीम शेख

समय : 08 : 30

18 जनवरी 2021

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप