0 झाँसी व चित्रकूट मण्डल में होगा टीकाकरण

झाँसी : मकर संक्रांति का दिन जनपद के लिये शुभ सन्देश लेकर आया। कोरोना से कराह रहे झाँसी में आज वैक्सीन की पहली खेप पहुँच गई। पुणे और लखनऊ से 51 ह़जार वैक्सीन मिली हैं। पुणे से आई 47 ह़जार वैक्सीन झाँसी और चित्रकूट धाम मण्डल के लिये हैं, जबकि लखनऊ से भी 4 ह़जार वैक्सीन स्वास्थ्य विभाग को मिल चुकी है।

पुणे से भेजी गई कोवि-शील्ड वैक्सीन आइ लाइण्ड वैन में आई थी। इसमें से झाँसी मण्डल को 21,100 वैक्सीन दी जाएगी। 12,240 वैक्सीन झाँसी, 500 वैक्सीन ललितपुर तथा जालौन को 8,360 वैक्सीन भेजी जा चुकी है। चित्रकूट धाम मण्डल के लिये 21,270 वैक्सीन रि़जर्व है। इसमें से चित्रकूट को 3,830, हमीरपुर को 6,400, बाँदा को 7,960 तथा महोबा को 3,080 वैक्सीन भेजे जाने की तैयारी है। सम्भावना है कि देर रात तक सभी ़िजलों के कोल्ड चेन सेण्टर तक वैक्सीन भेज दी जाएगी। इधर, लखनऊ से भी भारत बायोटेक की 4,380 को-वैक्सीन टीके की पहली खेप झाँसी जनपद को देर शाम को प्राप्त हुई है। लखनऊ से आई वैक्सीन की खेप को ़िजला क्षय रोग अस्पताल में विशेष कमरे में रखे एलआइआर में सुरक्षित रख दिया गया है।

::::::::::::

2 खुराक जरूरी, तभी सुरक्षा पूरी

0 एक बार वैक्सीन खुलने पर 6 घण्टे में करना होगा उपयोग

झाँसी : पुणे से भेजी गई कोवि-शील्ड की 1 वैक्सीन में 10 लोगों का टीकाकरण हो सकेगा, जबकि लखनऊ से आई 1 वैक्सीन 20 लोगों को दी जाएगी। वैक्सीन को इंजेक्ट कर भरने के उपरान्त उसे 6 घण्टे तक ही सुरक्षित रखा जा सकेगा।

वैक्सीन के सम्बन्ध में बताया गया कि को-वैक्सिन व कोवि-शील्ड वैक्सीन को प्लस 2 से प्लस 8 डिग्री के तापमान पर सुरक्षित रखा जाना है। दोनों टीके में बस कम्पनि का अन्तर है। कोवि-शील्ड की बात करें तो एक वैक्सीन 5 एमएल की है तथा एक वैक्सीन 10 लोगों के लिये पर्याप्त होगी। वहीं, लखनऊ से आई को-वैक्सिन 10 एमएल की है। यह वैक्सीन 20 लोगों के लिये होगी।

निर्देश अनुसार एक लाभार्थी को 0.5 एमएल की एक डो़ज हाथ (हार्ड म़जल) में लगाई जाएगी तथा उसके बाद दूसरी डो़ज पहला टीका लगने के बाद 28 वें दिन लगाई जाएगी। वैक्सीन आने से पूर्व चर्चा थी कि वैक्सीन की कोई एक्सपायरी डेट नहीं होगी पर ऐसा नहीं है। कोवि-शील्ड पर एक्सापायरी डेट अंकित है। हाल में जो वैक्सीन मिलीं हैं वह 4 नवम्बर 2020 के आसपास निर्मित हैं तथा 2 मई 2021 के बाद यह वैक्सीन एक्सपायर हो जाएगी। वहीं, को-वैक्सिन को लेकर अभी तक कोई नमूना जनपद स्तर पर सामने नहीं लाया गया।

एक ही कम्पनि के होंगे दोनों टीके

पहले से ही विशेषज्ञों ने साफ कर दिया था कि एक लाभार्थी को एक ही कम्पनि के दोनों टीके दिये जाएंगे। इसका पहला टीका लगाने के बाद दूसरे टीके में विशेषकर स्वास्थ्य कर्मियों को ध्यान रखना होगा। हालांकि कोविन ऐप पर यह सुविधा है कि किस लाभार्थी को पहला टीका किस कम्पनि का दिया गया है। दूसरा टीका देते वक्त ऑटोमेटिक कम्पनि प्रदर्शित होने लगेगी।

फाइल : पंकज कश्यप

दिनाँक : 14 जनवरी 2021

समय : 9:15 बजे

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021