बीजिंग। विश्व के सातवें नंबर के फ्रेंच खिलाड़ी जो-विल्फ्रेड सोंगा चाइना ओपेन टूर्नामेंट के फाइनल में प्रवेश कर गए है। वहीं पूर्व नंबर एक खिलाड़ी सर्बिया के नोवाक जोकोविक भी सेमीफाइनल में पहुंच गए हैं जहां उनका सामना गैरवरीय जर्मनी के फ्लोरियन मायेर से होगा।

सोंगा और स्पेन के फेलिसियानो लोपेज के बीच शनिवार को पुरुषों की एकल स्पर्धा का पहला सेमीफाइनल मुकाबला खेला जाना था लेकिन अस्वस्थ होने की वजह से 30वीं वरीय लोपेज मुकाबले को बीच में ही छोड़कर रिटायर्ड हर्ट होकर कोर्ट से बाहर चले गए। लोपेज ने जब मुकाबले को बीच में छोड़ने का फैसला किया उस समय सोंगा पहला सेट 6-1 से जीत चुके थे जबकि दूसरे सेट में सोंगा 4-1 से आगे थे। इस प्रकार सोंगा आसानी के साथ फाइनल में प्रवेश कर गए। सेमीफाइनल में सोंगा का सामना विश्व के दूसरी वरीयता प्राप्त सर्बिया के नोवाक जोकोविक और जर्मनी के फ्लोरियन मायेर के बीच खेले जाने वाले मुकाबले के विजेता से होगा। सोंगा इस साल दो बार फाइनल में पहुंचे हैं और दोनों ही बार खिताब पर कब्जा जमाने में सफल रहे हैं। दोहा ओपेन के बाद मेत्ज [फ्रांस] में खिताबी सफलता हासिल की थी। मेत्ज में उन्होंने अपने खिताब की रक्षा की थी।

विश्व के दूसरी वरीयता प्राप्त जोकोविक सेमीफाइनल में जर्मनी के फ्लोरियन मायेर से भिड़ेगे। पुरुषों की एकल स्पर्धा के क्वार्टर फाइनल मुकाबले में जोकोविक ने जर्गेन मेल्जर को आसानी से 6-1, 6-2 से पराजित किया। यह मुकाबला महज 53 मिनट तक चला। सेमीफाइनल में जोकोविक की भिड़ंत मायेर से होगी, जिन्होंने चीन के जी झेंग को 6-3, 6-4 से शिकस्त देकर सेमीफाइनल में जगह बनाई। जोकोविक इस टूर्नामेंट पर दो बार कब्जा कर चुके हैं। उन्होंने पहली बार वर्ष 2009 में जबकि दूसरी बार 2010 में इस टूर्नामेंट पर कब्जा जमाया था।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप