जागरण संवाददाता, पटियाला : शहर की सुरक्षा में तैनात पीसीआर गाड़ियों पर लगी ब्लिंकर लाइटों के कारण गाड़ी की बैटरी बैटरी खत्म होने की समस्या दूर हो गई है। पटियाला पुलिस ने राजपुरा की एक कंपनी की मदद से सोलर सिस्टम वाले ब्लिंकर लाइट्स को इन छह ट्वेरा गाड़ियों पर लगा दिया है। एसएसपी दीपक पारिक ने कहा कि बैटरी से चलने की वजह से ब्लिंकर दिक्कत बन रहे थे। इस वजह से राजपुरा की कंपनी ने आग्रह करने पर स्पेशल ब्लिंकर लाइट्स तैयार किए हैं। यह पूरी तरह से सोलर सिस्टम से चलते हैं, जिस वजह से बैटरी, फ्यूल व समय की बचत होगी। यही नहीं नाकों पर लगे बैरीकेडिग पर भी इन्हें लगाया गया है ताकि रात के समय यह लाइट्स देख लोगों को बैरीकेडिग के बारे में पता चल सके और हादसों का बचाव हो। यह लाइटें सूरज ढलने के बाद खुद ही जल पड़ती हैं और यह 12 घंटे तक काम करती हैं। इस मौके पर उनके साथ डीएसपी ट्रैफिक कर्मवीर तूर, पीसीआर इंचार्ज गुरदीप सिंह व प्रोफेसर प्रदीप शर्मा सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहे। सीसीटीवी कैमरों के लिए लगेंगे सोलर पैनल

एसएसपी ने बताया कि सभी पीसीआर ट्वेरा वैन पर सीसीटीवी कैमरे लगा दिए गए हैं। इन कैमरों के साथ गाड़ी में स्क्रीन व डीवीआर भी अटैच है। ब्लिंकर लाइट्स के साथ-साथ गाड़ी में सीसीटीवी कैमरे लगे होने से गाड़ी की बैटरी पर असर पड़ता था। कई बार तो मुलाजिमों को बैटरी खत्म होने पर धक्का मारकर गाड़ी स्टार्ट करवानी पड़ती थी। इन समस्याओं का हल करने के लिए गाड़ी पर सोलर पैनल सिस्टम लगाने पर विचार चल रहा है। इसके लिए राजपुरा की ही कंपनी के साथ तालमेल कर रहे हैं ताकि वह यह प्रोजेक्ट पटियाला पुलिस को तैयार करके मुहैया करवा दें।

Edited By: Jagran