श्रीकृष्ण जन्माष्टमी आज, उत्सव की तैयारियां पूरी

जागरण संवाददाता, मऊ : भगवान श्रीकृष्ण के जन्मोत्सव की तैयारियां गुरुवार को देर शाम तक घर-घर में पूरी कर ली गईं। शुक्रवार को श्रीकृष्ण जन्माष्टमी मनाए जाने को लेकर गुरुवार शाम से ही राधा-कृष्ण के मंदिरों की आकर्षक साज-सज्जा कर भजन-कीर्तन और विशेष पूजा-अर्चना शुरू कर दी गई है। कहीं राधा-कृष्ण की प्रतिमा लगाकर पंडाल सजाने की तैयारी है तो कहीं शुक्रवार की मध्य रात्रि में प्रभु के जन्म लेने की खुशी में रात्रि जागरण के कार्यक्रम के आयोजन की तैयारी है।

गुरुवार को बाजारों में राधा-कृष्ण की झांकी और पंडाल सजाने के काम आने वाले सजावटी सामानों एवं खिलौनों की खूब बिक्री हुई। तरह-तरह के गुब्बारे भी खूब खरीदे गए। शहर के सिंधी कालोनी, मुंशीपुरा, राजस्थान भवन, भीटी, इमिलिया, गोला बाजार, रोडवेज, हनुमान नगर सहित कई स्थानों पर पंडाल सजाए जाने की तैयारियां पूरी की जा रही थीं। इसके अलावा मुहम्मदाबाद गोहना नगर क्षेत्र, घोसी, मधुबन, अमिला, दोहरीघाट, नदवासराय, चिरैयाकोट, में भी श्रीकृष्ण के जन्मोत्सव पर भव्य आयोजन की तैयारी की गई है। कई स्थानों पर मूर्तिकारों ने राधा-कृष्ण की मूर्तियों को आकर्षक रूप दे दिया है। मूर्तियों को सिर्फ पंडालों में स्थापित किया जाना बाकी है। आचार्य रामचंद्र त्रिपाठी ने बताया कि 19 अगस्त की रात्रि दो बजे तक अष्टमी एवं उसके बाद नवमी तिथि लग जाएगी। इसीलिए जन्माष्टमी के भव्य आयोजन की तैयारी शुक्रवार को की गई है।

--

कई स्थानों पर है भजन संध्या की तैयारी

शुक्रवार को शहर के भीटी, औरंगाबाद, सहादतपुरा सहित कोपागंज नगर के हिकमा ब्रह्मशक्ति पीठ व इटौरा गांव में संपूर्ण रात्रि के लिए भजन-कीर्तन की तैयारी की गई है।

Edited By: Jagran