मधुबनी । स्थानीय प्रखंड क्षेत्र स्थित सिघिया पूर्वी पंचायत में जनकल्याणकारी योजनाओं की जांच अधिकारियों ने की। इसके बाद लोगों की समस्याएं का समाधान करने के लिए शिविर भी लगाया गया। उत्क्रमित मध्य विद्यालय, ससरमा में आयोजित शिविर में जिला पदाधिकारी अरविद कुमार वर्मा ने योजनाओं से जुड़ी कई बिदुओं की बारीकी से जांच किया। इस दौरान जिलाधिकारी ने आमजनों से पूछताछ कर उनकी समस्याओं से भी अवगत भी होते रहें। साथ ही उक्त पंचायत की वार्ड संख्या- 06, 07 एवं 10 में नल-जल योजनाओं का निरीक्षण किया। इन वार्डों में नल-जल योजनाओं की अव्यवस्थित स्थिति देख डीएम बिफर पड़े। साथ ही वार्ड संख्या 06 के नवनिर्वाचित वार्ड सदस्य को त्वरित प्रभार दिलवाते हुए बीडीओ को शीघ्र ही जांचोपरांत रिपोर्ट भेजने का आदेश दिया।

जिलाधिकारी ने कई वार्डों में भ्रमण कर आम नागरिकों की समस्याओं से रु-ब-रू होते रहे। एमडीएम की गुणवत्ता की जांच चख कर करते रहें। जिलाधिकारी श्री वर्मा ने बताया कि विभिन्न पंचायतों में जन कल्याण योजना की जांच प्रत्येक बुधवार को की जाती है। इस दिन पंचायत में शिविर लगा कर समस्याओं का समाधान किया जाता है। इसी आलोक में इस बुधवार को सिगिया पूर्वी पंचायत में जांच की गई। नल-जल योजना कुव्यवस्थित देखी गई हैं। वृद्धावस्था पेंशन, गली-नली, राशन कार्ड, सड़क, जाब कार्ड, बिजली व पीएम आवास समेत दर्जनों समस्याओं से भी रूबरू हुए है। इसके निष्पादन के लिए विभागीय पदाधिकारी को आदेशित किया गया है। बिजली के समस्याओं के संबंध में बिस्फी जेई को स्पष्टीकरण पूछ कर अग्रिम कार्रवाई करने का भी आदेश दिया गया है। इस अवसर पर वरीय समाहर्ता विकास कुमार, बीडीओ मनोज कुमार, सीओ श्रीकांत सिन्हा, बीपीआरओ चंद्रदेव प्रसाद व सीआई बंसत झा समेत कई अधिकारी मौजूद थे।

Edited By: Jagran