जागरण संवाददाता, हरिद्वार: Haridwar Crime News कनखल में युवक को गोली मारने के मामले में पुलिस (Haridwar Police) ने उसके तीन दोस्तों को गिरफ्तार कर 48 घंटे के भीतर पूरे मामले का पर्दाफाश कर लिया है।

दोस्तों के उकसावे में आकर गोली चलाई थी गोली

मुख्य आरोपित कन्नू को शक था कि संजू उसकी प्रेमिका को छेड़ता है, इसलिए उसने अपने दो दोस्तों के उकसावे में आकर गोली चलाई थी। पुलिस (Haridwar Police) ने तीनों आरोपितों को गिरफ्तार कर तमंचा और दो कारतूस भी बरामद कर लिए हैं। एसपी सिटी स्वतंत्र कुमार ने कनखल थाने में प्रेस कांफ्रेंस कर घटनाक्रम की जानकारी दी।

हरिद्वार के कनखल के मोहल्ला कुम्हारगढ़ा का मामला

कनखल के मोहल्ला कुम्हारगढ़ा में तीन दिन पहले संदिग्ध परिस्थितियों में संजू लोधी को गोली (Haridwar Crime) लग गई थी। जिस समय संजू को गोली लगी, आस-पास उसके चार दोस्त मौजूद थे।

जान से मारने की नीयत से चलाई थी गोली

अस्पताल में भर्ती कराने के बाद संजू की मां ने उसके दोस्त करन उर्फ कन्नू निवासी मोहल्ला कुम्हारगढ़ा कनखल, रवि उर्फ सरदार निवासी मोहल्ला सतीघाट कनखल और नितिन निवासी इंद्रा बस्ती हरिद्वार ( Haridwar Crime News) के खिलाफ जान से मारने की नीयत से गोली चलाने के आरोप में मुकदमा दर्ज कराया था।

तीन आरोपितों को किया गिरफ्तार

एसपी सिटी स्वतंत्र कुमार ने बताया कि मुकदमा दर्ज करने के बाद इंस्पेक्टर कनखल मुकेश चौहान के नेतृत्व में एक पुलिस टीम ( Haridwar Police Team) ने हर एंगल से छानबीन करते हुए तीनों आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया।

मुख्‍य आरोपित पहले भी जा चुका है जेल

मुख्य आरोपित करन उर्फ कन्नू शराब तस्करी (Liquor Smuggling) के मामले में जेल भी जा चुका है और गुंडा प्रवृत्ति का व्यक्ति है। पूछताछ में कन्नू ने बताया कि संजू उसकी प्रेमिका को छेड़ता था। घटना के दिन उसने संजू से इस बारे में पूछा।

  • इसी को लेकर उनके बीच विवाद हुआ। साथ मौजूद रहे रवि उर्फ सरदार और नितिन ने उसे संजू को मारने के लिए कहा तभी उसने संजू पर गोली चला दी।

गुंडा एक्‍ट में की गई है कार्रवाई

एसपी सिटी स्वतंत्र कुमार ने बताया कि आरोपित के खिलाफ पहले से कई मुकदमे दर्ज हैं और कई बार जेल जा चुका है। यहां तक कि उसके खिलाफ गुंडा एक्ट (Gunda Act) में भी कार्रवाई की जा चुकी है।

पुलिस टीम में इंस्पेक्टर कनखल मुकेश चौहान, जगजीतपुर चौकी प्रभारी खेमेंद्र गंगवार, उपनिरीक्षक भजराम चौहान, उपनिरीक्षक उपेंद्र सिंह, कांस्टेबल जयपाल सिंह, बलवंत सिंह, उम्मेद सिंह, बलवंत सिंह, संतोष रावत, सतेंद्र रावत शामिल रहे।

हालत खतरे से बाहर, लेकिन खराब हुई किडनी

गोली नजदीक से मारने के कारण उसने अंदर ही अंदर कई अंगों को नुकसान पहुंचा है। संजू की हालत फिलहाल खतरे से बाहर है, लेकिन गोली लगने से उसकी एक किडनी खराब हो गई है।

इंस्पेक्टर कनखल मुकेश चौहान ने बताया कि गोली लगने के बाद संजू को उसके दो दोस्तों ने अस्पताल (Haridwar Hospital) पहुंचाया था, जबकि तीनों आरोपित भाग खड़े हुए। संजू फिलहाल आइसीयू में भर्ती है, उसकी हालत अब खतरे से बाहर बताई जा रही है।

Haridwar News: हरिद्वार में प्रेम प्रसंग से नाराज पिता और भाई ने की किशोरी की हत्या, शव बोरे में बांधकर गंगा में फेंका

Edited By: Anoop kumar singh