मुंबई, एजेंसी। Maharashtra News: महाराष्ट्र में शिवसेना नेता व सांसद संजय राउत (Sanjay Raut) अपने विरुद्ध दर्ज मानहानि के मामले (Defamation Case) में वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से मुंबई में एक मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश हुए। इस दौरान उन्होंने कहा कि वह दोषी नहीं हैं। राउत के विरुद्ध भाजपा नेता किरीट सोमैया की पत्‍‌नी मेधा सोमैया ने मानहानि का मामला दर्ज कराया है। ईडी ने उन्हें मनी लांड्रिंग के एक मामले में गिरफ्तार किया था। जब से उन्हें आर्थर रोड जेल में रखा गया है।

मामले की सुनवाई 19 सितंबर तक के लिए स्थगित

मानहानि मामले की सुनवाई कर रही शिवड़ी मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट की कोर्ट ने उन्हें गुरुवार को पेश करने का निर्देश दिया था। मेधा के वकील विवेकानंद गुप्ता ने बताया कि इसी निर्देश के तहत राउत को कोर्ट के समक्ष पेश किया गया था। उन्होंने अपने ऊपर लगे आरोपों को स्वीकार न करते हुए स्वयं को निर्दोष बताया है। गुप्ता ने बताया कि मामले की सुनवाई 19 सितंबर तक के लिए स्थगित कर दी गई है।

मेधा सोमैया ने संजय राउत के खिलाफ की थी मानहानि की शिकायत

भाजपा नेता किरीट सोमैया की पत्नी मेधा सोमैया ने संजय राउत के विरुद्ध आपराधिक मानहानि की शिकायत दाखिल की है। राउत ने उन पर 100 करोड़ रुपये के शौचालय घोटाले में शामिल होने का आरोप लगाया है। मेधा ने अपनी शिकायत में कहा है कि राउत द्वारा लगाए गए आरोप निराधार हैं। उन्होंने कहा कि वह 15 और 16 अप्रैल की खबरें देखकर चकित रह गई कि राउत ने उन पर और उनके पति पर मीरा भायंदर नगर निगम क्षेत्र में सार्वजनिक शौचालयों के निर्माण में 100 करोड़ रुपये के घोटाले में शामिल होने का आरोप लगाया है। उन्होंने कोर्ट से राउत के खिलाफ मानहानि के आरोप में कार्रवाई शुरू करने का आग्रह किया है।गौरतलब है कि महाराष्ट्र में यह मामला पिछले काफी समय से चर्चा में है। इस मसले पर जमकर राजनीति भी हुई है।

Edited By: Sachin Kumar Mishra