लखनऊ, जागरण टीम। कपकपाते होठ और आंखों में आंसू लिए लड़खड़ाते हुए 90 वर्षीय सूरजदेई मोहनलालगंज तहसील में आयोजित समाधान दिवस में पहुंची तो भीड़ देखकर कक्ष के बाहर ही ठिठक गईं। इस बीच वहां पर खड़े जितेंद्र ने सूरजदेई को हाथ पकड़कर जिलाधिकारी सूर्यपाल गंगवार के पास पहुंचाया। मेज पर हाथ रखकर सूरजदेई रोते हुए जिलाधिकारी से बोलीं साहेब पति हमार खतम होइगे हैं, लरिकवा कुछ करति नाई है अब घर पर खाए के लिए कुछ नहीं है। कबो गांव वाले देति हैं तो कबो पानी पीकै राति मा अइसेहे सो जाइत है।

सूरजदेई की बात सुनकर जिलाधिकारी ही नहीं वहां पर खड़ा हर एक सख्श भावुक हो गया। जिलाधिकारी ने सूरजदेई का हाथ पकड़ा और ढाढस बंधाते हुए शांत कराया तुरंत पहले पानी के एक बोतल दी। पानी पीकर सूरजदेई का गला तर हुआ। इसके बाद जिलाधिकारी ने तत्काल सूरजदेई के खाने का बंदोबस्त कराया। मातहतों को भेजकर तत्काल सूरजदेई के घर एक माह का राशन भिजवाया।

पशुचर की जमीन पर अवैध कब्जा

इसके अलावा समाधान दिवस में उतरावां गांव में पशुचर की जमीन पर अवैध कब्जे की शिकायत जिलाधिकारी को मिली तो उन्होंने तत्काल लेखपाल को फटकार लगाई। जमीन का कब्जा खाली कराने के निर्देश दिए। सिसेंडी में ग्रामीणों ने पेड़ कटान की शिकायत की जिस पर एसडीएम को जांच सौंपी गई। वहीं, मंगटाइया गांव में फर्जी क्लीनिक संचालन की शिकायत मिली तो जिलाधिकारी ने सीएचसी प्रभारी को कार्रवाई के निर्देश दिए।

उधर, सरोजनीनगर तहसील में एसडीएम सिद्धार्थ की अध्यक्षता में संपूर्ण समाधान दिवस का आयोजन हुआ। इस दौरान उन्होंने सभी को निर्देश दिया कि आने वाली शिकायतों को गंभीरता से लें। पैमाइश संबंधी मामलों में लेखपाल कोर्ट के आदेश पर ही पैमाइश करने टीम के साथ जाए। फरियादियों की समस्याओं का त्वरित निस्तारण करने का प्रयास करें।

महोना नगर पंचायत चेयरमैन पर कब्‍जा करने का आरोप 

बीकेटी तहसील में आयोजित समाधान दिवस के मौके पर चांदनपुर गांव के रहने वाले विमल सिंह परमार ने मोहाना नगर पंचायत के चेयरमैन इशरत बेग के खिलाफ प्रार्थनापत्र देते हुए मंडलायुक्त रोशन जैकब से कहा कि वह तालाब की जमीन पर कब्जा कर रहे हैं। मंडलायुक्त ने नजर टेढ़ी कर राजस्व कर्मियों से पूछा तो उन्हें बताया गया कि भूमिक आवंटन उनको हुई थी। इसके बाद मंडलायुक्त ने एसडीएम से मामले को गंभीरता से लेते हुए कार्रवाई के लिए कहा। मंडलायुक्त ने स्पष्ट कहा कि अगर तालाब की जमीन पर कब्जे की पुष्टि हो तो तत्काल कार्रवाई करें। उन्होंने इसी मामले में पूर्व में हुई शिकायत पर अब तक आवंटन निरस्तीकरण की कारवाई न होने पर अधिकारियों से नाराजगी जताई।

एसडीएम को जांच कर कारवाई के निर्देश

किसान यूनियन के मंडल अध्यक्ष मो शकील ने बीकेटी में डालीगंज रजबहा पर बिना अनुमति पुलिया निर्माण और इटौंजा और कुर्सी रजबहा पर अतिक्रमण की शिकायत की। कमिश्नर ने नहर विभाग के अधिशासी अभियंता और एसडीएम को शिकायत की जांच कर कारवाई के निर्देश दिये हैं। रेवामऊ निवासी छोटेलाल ने शिकायत की मोहम्मद पुरगढ़ी में सामुदायिक शौचालय निर्माण में काम करने वाले मजदूरों की मजदूरी ग्राम प्रधान और सचिव नहीं दे रहे हैं। शिकायत पर बीडीओ पूजा सिंह को शिकायत का निस्तारण कराने के निर्देश दिये गये हैं।

वहीं, आईजी रेंज लक्ष्मी सिंह ने शिकायत निस्तारण रजिस्टर चेक किया तो बीकेटी नगर पंचायत के वार्ड एक में गाटा संख्या 108 पर अवैध कब्जे की पुरानी शिकायत का निस्तारण न होने पर लेखपाल, राजस्व निरीक्षक, थाना प्रभारी और अधिशासी अधिकारी को फटकार लगाई। उन्होंने कहा सही से जांच करें और शिकायत का मौके पर निस्तारण करायें।

कम‍िश्‍नर रौशन जैकब ने जताई नाराजगी

कमिश्नर रौशन जैकब ने बीकेटी तहसील स्तर पर समाधान दिवस की पुरानी शिकायतों के लंबित होने पर नाराजगी जताई। उन्होंने अधिकारियों से कहा यदि धारा 24 में कोई मामला न्यायालय में चल रहा है। इस दौरान अवैध कब्जे की शिकायत मिलती है तो उसे तत्काल रोंका जाय और अवैध कब्जे को रिपोर्ट में राजस्व निरीक्षक लेखपाल अंकित करें। इस दौरान एसडीएम वित्त राजस्व हिमांशु गुप्ता, एसपी ह्रदेश कुमार व अन्य अधिकारी, कर्मचारी मौजूद रहें।

मलिहाबाद में लेखपालों को लगी फटकार 

मलिहाबाद तहसील के लंबे समय से लंबित पड़े राजस्व के मामलों को लेकर एसडीएप प्रज्ञा पांडेय का पारा शनिवार को चढ़ गया। उन्होंने लेखपालों को जमकर फटकार लगाई। अल्टीमेटम दिया कि अगले समाधान दिवस तक अगर मामले निस्तारित नहीं हुए तो आप सब कार्रवाई के लिए तैयार रहें। कुल 90 मामले आए समाधान दिवस में आए। जिनमें से एडीएम पूर्वी की अध्यक्षता में 15 प्रकरण काम मौके पर ही निस्तारण किया गया। इनमें से 50 फीसद मामले राजस्व से संबंधित थे।

Edited By: Anurag Gupta

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट