जागरण संवाददाता, जालंधर। श्री गुरु रामदास जी के प्रकाशोत्सव को लेकर कीर्तन दरबार का आयोजन दोआबे के ऐतिहासिक स्थान गुरुद्वारा दीवान स्थान, सेंट्रल टाउन, में हुआ। इसका आगाज श्री गुरु ग्रंथ साहिब की इलाही बाणी के साथ किया गया। इसके बाद प्रसिद्ध रागी जत्थे के सदस्यों ने शबद गायन के साथ संगत को निहाल किया।

इस दौरान भाई मनप्रीत सिंह कानपुरी, भाई बलबीर सिंह, भाई हीरा सिंह तथा बीबी बलविंदर कौर खड़ूर साहिब वालों ने कथा व कीर्तन के साथ संगत को गुरु चरणों से जोड़ा। इसके साथ ही श्री गुरु रामदास जी के जीवन पर प्रकाश डाला।

जालंधर के गुरुद्वारा दीवान स्थान, सेंट्रल टाउन में गुरु चरणों में नतमस्तक संगत।

विधायक अरोड़ा बोले- नई पीढ़ी को धर्म से जोड़ें

प्रबंधक कमेटी के अध्यक्ष मोहन सिंह ढींडसा तथा महासचिव गुरमीत सिंह बिट्टू ने गुरुओं की जीवनी तथा आदर्श को जन-जन तक पहुंचाने का आह्वान किया। समागम में बतौर मुख्य अतिथि शामिल हुए विधायक रमन अरोड़ा ने कहा कि पंजाब की धरती को गुरुओं, पीरों व संतो की जन्मस्थली होने का गौरव प्राप्त है। इसे बनाए रखने के लिए नई पीढ़ी को धर्म तथा अध्यात्म के साथ जोड़े जाने की जरूरत है। इससे पहले, प्रबंधक कमेटी की तरफ से रागी जत्थे तथा समागम में शामिल अतिथियों को सम्मानित किया गया। अरदास के उपरांत गुरु का अटूट लंगर वितरित किया गया।

इस मौके पर सुरिंदर सिंह, मक्खन सिंह, निर्मल सिंह बेदी, जसबीर सिंह दकोहा, गुरिंदर सिंह मझैल, हरजोत सिंह लकी, सतपाल सिंह सिद्धकी, गुरजीत सिंह टक्कर, बलदेव सिंह, जतिंदर पाल सिंह मझैल, राहुल जुनेजा, रणवीर सिंह जस्सी, हरसिमरन सिंह, अनमोल सिंह, हरमनप्रीत सिंह सहित सहित सदस्य मौजूद थे।

यह भी पढ़ें - Punjab Taffic Alert: जालंधर में भारी जाम में फंसे हजारों लोग, पीएपी चौक पर धरने से दिल्ली-अमृतसर हाईवे ब्लाक

Edited By: Pankaj Dwivedi

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट