मुजफ्फरपुर, जासं। जिले के ब्रह्मपुरा थाना में तैनात महिला सिपाही कविता कुमारी की पुणे के एक होटल में शव मिलने का मामला उलझते जा रहा है। इंसाफ दिलाने को लेकर महिला सिपाहियों ने इंटरनेट मीडिया पर मुहिम शुरू कर दी है। वहीं पुणे से शव लेकर पहुंचे कविता के पति भूपेंद्र ने बताया कि जब पुणे गए तो वहां खुदकुशी की बात बताई गई। उन्होंने इसका खंडन किया। कहा कि वह ऐसी नहीं थी कि खुदकुशी कर लेगी। इस पर पुणे पुलिस द्वारा उन्हें तस्वीर दिखाई गई। इसे देखने के बाद प्रतीत हुआ कि कविता का पैर पलंग से बिल्कुल सटा हुआ था। पुलिस ने स्‍वजनों को उलझा दिया

इनका कहना है कि खुदकुशी के मामले में पैर पलंग से कैसे सटेगा। उन्हें आशंका है कि उसकी हत्या की गई है। इस बिंदु को लेकर जब उन्होंने सवाल उठाए तो पुणे पुलिस ने दूसरी खुदकुशी का तस्वीर दिखाया। इसमें एक व्यक्ति के गले में फंदा बंधा हुआ था और वह फर्श पर घुटने के बल झुका हुआ था। तस्वीर दिखाते हुए पुणे पुलिस भूपेंद्र से कहा कि सभी खुदकुशी केस में जरूरी नहीं है कि पैर ऊपर ही हो। इस तरह की बातों को बताकर पुणे पुलिस ने उनलोगों को उलझा दिया।

पुलिस का नहीं मिला सहयोग

कविता के पति कहना है कि मामले में न पुणे और न ही मुजफ्फरपुर पुलिस का ठीक से सहयोग मिला। इन सब के बीच पुणे से शव लेकर स्वजन मुजफ्फरपुर स्थित पुलिस लाइन पहुंचे, जहां उसे श्रद्धांजलि दी गई। मौके पर एसएसपी जयंत कांत, नगर डीएसपी रामनरेश पासवान समेत अन्य पुलिस पदाधिकारी मौजूद रहे।

मड़वन प्रमुख के देवर को पिस्तौल का भय दिखा चेन, घड़ी छीनी

मड़वन। करजा थाना क्षेत्र के रुपौली माई स्थान के निकट सोमवार को मड़वन प्रमुख के देवर के साथ रास्ते मे घेर कर छिनतई की गई। गाली-गलौज करते हुए उनसे मारपीट की गई और पिस्तौल के बल पर सोने की चेन और घड़ी छीन ली। प्रमुख पति रंजीत साह ने करजा थाने में इस आशय का आवेदन देकर जान-माल की सुरक्षा की गुहार लगाई है। उन्होंने कहा है कि 15 अगस्त की सुबह 10 बजे उनके भाई कृष्ण कुमार उनके पुत्र और उनकी भतीजी को लेकर गंगापुर स्थित एक निजी स्कूल से झंडोतोलन के बाद वापस घर लेकर आ रहे थे। इसी बीच रेपुरा के दीपक ठाकुर व दो अन्य अज्ञात व्यक्ति ने रास्ते में उन्हें रोक लिया पिस्तौल सटाकर, गाली गलौज करते हुए सोने की चेन व घड़ी छीन ली। आवेदन में कहा गया है कि आरोपितों द्वारा कभी भी फिर किसी अप्रिय घटना को अंजाम दिया जा सकता है। थानाध्यक्ष राजेश कुमार राकेश ने बताया कि घटना की जानकारी मिलने पर पुलिस को भेजकर जांच-पड़ताल कराई गई है। प्रमुख पति के आवेदन पर कार्रवाई की जा रही है।

Edited By: Dharmendra Kumar Singh