ठंड से बेहाल एटीएम

आप को क्‍या लगता है इस भीषण सर्दी में आपकी ही हालत खराब है? बिलकुल नहीं जनाब ऐसा नहीं है, अब तो बैंकों के एटीएम भी सर्दी से परेशान हैं, तभी तो ठीक से चलाए रखने के लिए एटीएम मशीन को भी कंबल पहनाकर रखा जा रहा है, और रूम हीटर जला कर गर्मी दी जा रही है। आजकल कश्‍मीर से लेकर दिल्‍ली और कानपुर से लेकर अहमदाबाद तक मिनिमम टेंम्‍प्रेचर 4 डिग्री तक पहुंच रहा है, ऐसे में जबरदस्‍त ठंड से लोगों को बुरा हाल है। यूपी और दिल्ली में तो फिर भी बर्दाश्‍त करने लायक ठंड है, लेकिन हिमाचल के सुदुर इलाकों में तो भीषण सर्दी और बर्फबारी के चलते हालात काफी संगीन हो चुके हैं। यहां के लाहौल-स्पिती जिले में तो तापमान जीरो से भी काफी नीचे चल रहा है। जिसके चलते ठंड के कारण कई एटीएम में मशीनें ठीक से काम नहीं कर पा रही हैं और बार बार जाम हो जाती हैं। 

 

कंबलों और हीटर से देनी पड़ रही है गर्मी

इस कारण इस जगह पर एटीएम मशीन को मोटा कंबल पहना दिया गया है। इसके बावजूद एटीएम मशीन और उसके पावर बैकअप को मेंटेन रखने के लिए कई एटीएम केबिन में रुम हीटर भी लगाने पड़ रहे हैं, ताकि दिन भर के धंधे के टाइम में एटीएम मशीनें ठीक से काम कर सकें। यहां के कुछ बैं‍क मैनेजरों का कहना है कि सुरक्षा कारणों से वे एटीएम के भीतर कोयला या लकडि़यां तो नहीं जला सकते, इसलिए एटीएम केबिन को गर्म रखने के लिए बिजली पर ही निर्भर रहना पड़ता है। अगर बिजली न हो तो मशीन का काम कर पाना बिल्‍कुल भी संभव नहीं है।

माइनस 25 डिग्री तापमान 

हिमाचल में मनाली से करीब 126 किलोमीटर दूर कायलॉग में कभी कभी दिन का तापमान भी माइनस 5 से 10 के बीच रहता है। यहां के बैंक मैनेजर बताते हैं कि इतने कम तापमान में तो एटीएम को चलाना पूरी तरह से मुश्‍किल हो जाता है। कई बार तो एटीएम के दरवाजे बर्फबारी के कारण बंद हो जाते हैं। इसी हफ्ते इस स्‍थान का तापमान माइनस 25 डिग्री तक पहुंच गया था। जाहिर है इतने कम तापमान पर तो क्‍या इंसान और क्‍या मशीनें सभी जाम हो जाते हैं। ठंड से एटीएम की कन्‍वेयर बेल्‍ट जाम हो जाती है और जब तक उसको खोलकर उसे ठीक न किया जाए, पैसे निकाल पाना संभव ही नहीं होता।

 

Posted By: Molly Seth