शोहरत पाने का अनोखा तरीका 

हर बिजनेसमैन अपने धंधे को चमकाने के लिए हर तरकीब आजमाता है, तुर्की के इस्तांबुल के इस कैफे मालिक ने भी ऐसा तरीका खोजा, जो मशहूर तो हुआ पर उससे विवाद भी पैदा हो गया है। दरसल इस कैफे में शेर के सामने लोगों खाना परोसा जाता है। नहीं आपके पढ़ने में कोर्इ गलती नहीं है पर वो शेर कांच के पिंजरेनुमा गलियारे में मौजूद होता है। मेवजू नाम के इस कैफे में आने वाले पता नहीं इस तरह अपना डिनर आैर लंच करना कितना इंज्वाॅय करते हैं, लेकिन इस कैफे का वीडियो देखने वालों को बिलकुल मजा नहीं आ रहा है आैर वे जम कर इसका विरोध कर रहे हैं। 

शेर पर अत्याचार का दावा 

दरसल इस सोशल  मीडिया पर वायरल विडियो में साफ नजर आ रहा है कि एक शेर कांच के छोटे से पिंजरे में कैद है। ये पिंजरा काफी संकरा आैर  उसके आकार से  थोड़ा ही  बड़ा है। विरोध करने वालों का कहना है  कि भले ही शेर को देखते हुए लोगों को वहां भले ही अच्छा लग रहा हो, लेकिन निश्चित रूप से शेर को इसमें बिलकुल भी मजा नहीं आ रहा होगा, क्योंकि यह पिंजरा उसके लिहाज से काफी छोटा है। दूसरे शेर को खुले जंगल में रहना पसंद होता है कैद में रहना नहीं। लोगों का मानना है कि पशु संरक्षकों को इस पर कायर्वाही करनी चाहिए है क्योंकि ये शेर पर अत्याचार है। 

 

 

 

Minik misafirlerimizin “Khaleesi” ile tanışması 🦁🦁#eating #foodpic #foodpics #yummy #amazing #breakfast #fresh #tasty #food #istanbul #dubai #nusret #zoo #beykoz #polonezköy #shisha #shishalounge #shishatime #shishasmoke #nargile #nargilekeyfi #nargilezamanı #lounge #mevzoo #mevzoocafe #kahvaltı #tiger #lion

A post shared by Mevzoo (@mevzoo) on

दायर हुर्इ याचिका 

इस विडियो के सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद कर्इ पशु प्रेमियों जिनमें पशु चिकित्सक आैर मनोविज्ञानी शामिल हैं मानते हैं कि ये एक गलत हरकत  है आैर साफ नजर आ रहा है  कि शेर बिलकुल अच्छा महसूस नहीं कर रहा वो तनाव आैर बेचैनी से भरा नजर आ रहा है। सभी का मानना है कि अपने आर्थिक लाभ के लिए एक जंगली जानवर को इस तरह से सताना अमानवीय कृत्य है। लोग कैफे मेवजू की इस हरकत को घटिया बता रहे हैं। यहां तक कि इसके विरोध में 2700 से ज्यादा लोगों ने कैफे के खिलाफ याचिका पर हस्ताक्षर भी किये हैं। 

कैफे ने कहा कुछ भी गैरकानूनी नहीं, आैर भी हैं जानवर 

दूसरी आेर इस याचिका के जवाब में कैफे ने कहा है कि वो कुछ भी गलत नहीं कर रहा आैर उसके पास पर्यटन से संबंधित चिड़ियाघर और पशु पुनर्वास केंद्र की आेर से जारी लाइसेंस मौजूद है। हालांकि सोशल मीडिया पर विवाद शुरू होने के बाद तुर्की के वन आैर जल मंत्रालय ने कहा है कि वो मामले की जांच कर रहा है। इस बीच  ये  भी जानकारी मिली  है कि शेर के अलावा इस कैफे में 35 खरगोश, कुछ हंस पक्षी, चार सांप, चार घोड़े, दो तोते, दो मगरमच्छ और एक इग्‍यूएना जो बड़ी छिपकली की प्रजाति है, भी मौजूद हैं। उसने इन सबकी तस्वीरें आैर वीडियो टर्की जू  के नाम से इंस्टाग्राम पेज पर साझा भी की हैं। 

Image courtesy Instagram

By Molly Seth