नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। कौन नहीं चाहता है कि वह एक अच्छी और लंबी जिंदगी गुजारे। गंभीर बीमारी से पीड़ित लोगों को अगर छोड़ दें तो आमतौर पर सभी लोग चाहते हैं कि वे जिंदगी को भरपूर जिएं। लेकिन दुनिया में एक देश ऐसा भी है,जहां लोग सरकार से इच्छा मृत्यु मांग रहे हैं। इस देश का नाम है नीदरलैंड।

यहां हाल ही में संसद में देश के स्वास्थ्य मंत्री और डच सांसद क्रिस्चियन डेमोक्रेट ह्यूगो डि जोंग ने एक रिपोर्ट के हवाले से बताया कि देश के 10 हजार लोगों ने सरकार से इच्छा जाहिर की है कि वे अपनी जिंदगी खत्म करना चाहते हैं। इन सभी लोगों को इसकी अनुमति दी जाए। इन सभी लोगों की उम्र 55 साल से अधिक है। ये सभी लोग अपनी गंभीर बीमारियों से पीड़ित हैं।  इसलिए अपना जीवन खत्म करना चाहते हैं।  स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि ये आंकड़ा देश की कुल जनसंख्या का 0.18 फीसदी है।

दरअसल, ये सभी लोग गंभीर बीमारियों से पीड़ित हैं और अपनी जिंदगी को खुद खत्म करना चाहते हैं।स्वास्थ्य मंत्री डि जोंग ने इस मामले पर चिंता जताई है। उनका कहना है कि एक गंभीर मुद्दा है। सरकार को सोचना चाहिए जो लोग इच्छामृत्यु की मांग कर रहे हैं। वह अपनी जिंदगी से परेशान क्यों हो गए हैं। इन लोगों को फिर से जीवन का सही अर्थ खोजने और उन्हें प्रेरित करने की मदद करनी चाहिए। इस पर सरकार को कोई फैसला लेना होगा। साथ ही ऐसे लोगों की मदद करनी होगी, जिन्होंने जीने की उम्मीद छोड़ दी है। नीदरलैंड की अन्य पार्टी की सांसद ने कहा कि वह 75 से अधिक लोगों के लिए इच्छामृत्यु के लिए एक बिल पेश करेगी, ताकि लोग अपने जीवन का अंत शांतिपूर्ण और गरिमापूर्ण तरीके से कर सकें। ऐसे में समझा जा सकता है कि वहां के लोग जिंदगी से किस कदर हार चुके हैं। इसलिए जरूरी है कि हिम्मत रखी जाए। 

Posted By: Nandini Dubey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस