चोट के चलते मिला मौका

हममें से कर्इ लोगों को जीवन में कभी ना कभी हवार्इ यात्रा का मौका मिला होगा आैर उनमें से कोर्इ मौका पहला भी होगा, पर शायद ही कभी किसी ने सुना है इस खुशी में कोर्इ एयरपोर्ट से गायब हो गया। चलिए मिलते हैं एक एेसे ही शख्स से, रिचपाल सिंह नाम के इस शख्स के साथ कुछ ऐसा ही हुआ। राजस्थान जयपुर का रहने वाला रिचपाल आंध्र प्रदेश के चित्तूर में मजदूरी करता है। पिछले दिनों उसे काम के दौरान घुटने में चोट लग गई थी। जिसके बाद डॉक्टरों ने उसे आराम करने की सलाह दी । रिचपाल की हालत देखते हुए उसके कॉन्ट्रैक्टर ने तय किया कि उसे घर भेज दिया जाए आैर उसके लिए जयपुर की एक फ्लाइट में टिकट बुक करा दी। रिचपाल के लिए ये हवाई यात्रा करने का पहला अनुभव होने वाला था।

चढ़ गया नशा 

अब ये कहना मुश्किल है कि रिचपाल के ऊपर पहली हवार्इ यात्रा का नशा ज्यादा था या उस शराब का जाक उसने यात्रा के पहले पी ली थी। दरसल जब 10 जुलाई को वह अपने सहयोगी मुकेश कुमार के साथ केम्पेगोड़ा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पहुंचा तो एक्साइटमेंट के चलते उसने यात्रा से अपने दोस्त के साथ जमकर शराब ली। इसके बाद वो नशे की हालत में ही एयरपोर्ट पहुंचा। हालांकि उसके साथी ने कहा भी कि वो कम पिये पर वो जोश में कुछ नहीं सुन सका आैर पूरी तरह टुन्न हो गया। नतीजा ये हुआ कि फ्लाइट तक जाने के लिए उसको व्हील चेयर का सहारा लेना पड़ा।  

काबू से बाहर हुर्इ हरकतें 

वो इस कदर नशे की गिरफ्त में था कि फ्लाइट तक पहुंचने के लिए बस में ही उसने अन्य यात्र‍ियों के साथ गलत हरकतें शुरू कर दीं, जिस पर सबने एयरपोर्ट अधिकारियों से उसकी शिकायत कर दी। यात्रियों की शिकायत के बाद रिचपाल की जांच की गई, जिसमें में पता चला कि उसने काफी मात्रा में शराब पी ली है और वह सफर करने के हालत में नहीं है। नतीजा ये हुआ की एयरपोर्ट कर्मचारियों ने उसे उसे एयरपोर्ट से बाहर निकाल दिया। 

हो गया लापता 

इसके बाद कहानी में आया नया ट्विस्ट जब एयरपोर्ट के बाहर से रिचपाल लापता हो गया। पूरे एक हफ्ते तक किसी को पता नहीं चला की आखिर वो है  कहां। बहुत तलाश के  बाद आखिर पुलिस को पता चला कि एयरपोर्ट से करीब 10 किलोमीटर दूर एक मंदिर में रिचपाल पड़ा हुआ है। खबर मिलते ही रात के वक्त पुलिस मंदिर पहुंची आैर उसे वहां  से  लाया गया। जांच के दौरान पुलिसवालों ने जब रिचपाल से पूछा कि वो वहां कैसे आया तो उसने कहा कि उसे खुद नहीं पता कि वो कैसे मंदिर में पहुंच गया। जब वो मिला तो जख्मी हालत में था इसलिए पुलिस ने उसे अस्पताल भेजा जहां से उसके साथी मुकेश के साथ उसे घर भेज दिया गया। वैसे ये पहली बार नहीं है जब मदहोशी किसी की हवार्इ यात्रा में बाधा बनी हो, कुछ महीने पहले दिल्ली हवार्इ अड्डे पर भी एक शराबी यात्री को हंगामा करने पर  पर फ्लाइट से उतार दिया गया था। 

Posted By: Molly Seth