अनोखा मददगार 

कानपुर, (राॅयटर्स)। कुछ अर्सा पहले एक शख्स ने मुसीबत में फंसे इंसान की मदद करने के लिए अपने पास मौजूद आखिरी 20 डाॅलर तक दे दिए। खबर के मुताबिक अमेरिका के न्यूजर्सी में एक बेघर शख्स के पास महज 20 डाॅलर थे जब उसने देखा कि सामने मौजूद एक युवती की कार में गैस खत्म हो गर्इ है आैर उसके पास अपनी मंजिल पर पहुंचने का कोर्इ रास्त नहीं है। युवती के पास उस समय इतने पैसे नहीं थे या उसका कार्ड काम नहीं कर रहा था ये तो ठीक से नहीं पता पर वो उस समय बिलकुल असहाय नजर आ रही थी। जाॅनी बाबिट नाम के इस पूर्व नौसैनिक के पास महज 20 डाॅलर बचे थे आैर वो उसने इंटरस्टेट 95 के एक फ्यूल पंप पर लाचार खड़ी युवती को दे दिए, ताकि वो फ्यूल डलवा सके। 

मदद के नाम पर धोखाधड़ी

दूसरी आेर इस लड़की जिसका नाम केटलिन मेक्ल्युअर बताया जा रहा है ने ये जाहिर किया कि वो जाॅनी के अहसान का बदला उसके लिए सहायता राशि जुटा कर चुकाएगी, पर कुछ उल्टा ही कर दिखाया। उसने अपने ब्वाॅयफ्रेंड मार्क डी, एमिको के साथ मिल कर आॅनलाइन फंडरेजिंग साइट गोफंडमी पर पैसा इकठ्ठा करना प्रारंभ किया। आैर करीब 400,000 डाॅलर की रकम जुटा भी ली। इसके बाद पता नहीं उनकी नियत बदल गर्इ या, ये उनकी योजना का हिस्सा था पर उसमें से अधिकतम उन्होंने खुद के लिए ही खर्च डाली। 

चलेगा मुकदमा 

अब पता चला है की उनकी इस घटिया धोखधड़ी के लिए उन पर मुकदमा चलेगा। गोफंडमी के वकील का कहना है कि 400,000 डाॅलर जिसका भारतीय मुद्रा में मूल्य करीब 2,88,14,000 रुये के बराबर है, का अधिकांश हिस्सा उन्होंने अपने फायदे के लिए इस्तेमाल कर लिया। ये जानने के बाद जाॅनी ने उन चैरिटी की रकम हड़प जाने का मुकदमा दायर कर दिया है। उसका आरोप है कि इस जोड़े ने उनको भुगतान किए जाने वाली सहायता राशि का दुरुपयोग किया गया है।  

Posted By: Molly Seth