एक नहर है दक्षिणी मेक्सिको में। अचानक ही उसके अन्दर से एक चर्च निकल आया। है न हैरानी वाली बात। पर ऐसा हुआ है। और इसके बाद दुनिया भर के लोग हक्के-बक्के भी रह गए। इस चर्च को टेम्पल ऑफ कुएचुला के नाम से जाना जात था।

भयानक सूखा पड़ने की वजह से “Grijalva” नदी का जलस्तर काफी गिर गया। जिसके बाद “Nezahualcoyotl” बांध में पानी की कमी हो गयी और ये पुराना चर्च जैसे वहां उग आया। यह जगह मेक्सिको के “State of Chiapas” में स्थित है। इस चर्च के साथ कुछ दिल दहला देने वाले सच जुड़े हुए हैं।

पढ़ें- जरा ध्यान देंः सिगरेट का एक पफ 1 करोड़ रुपये का पड़ रहा है, जानिए कैसे?

1966 में इस जलाशय का निर्माण तब किया गया था जब “Grijalva” नदी के ऊपर बांध बनाया गया था। तब ये चर्च पानी के अन्दर चला गया था। पर अब ये वापस निकल आया है। सोलहवीं शताब्दी के मध्य में स्पेनिश लोगों ने इस हिस्से पर हमला कर दिया। वो उसे जीतना चाहते थे और उन्होंने वहां के नेटिव लोगों पर कैथोलिज्म थोपना शुरू कर दिया।

पढ़ें- घड़ियाली आंसू बहाने की कहावत तो आपने सुनी होगी लेकिन इसका राज नहीं पता होगा!

यह सब वो स्पेन के राजा और ईश्वर के नाम पर करते थे। “Friar Bartolome de las Casas” उस समय एक संस्था हुआ करती थी जिसके अंतर्गत वहां के मॉन्क काम किया करते थे। और वहां के नेटिव “जोक” लोग अपने एक अलग धर्म का पालन किया करते थे।

पढ़ें- उल्टा-पुल्टा घरः यहां सब कुछ उल्टा नजर आएगा, यकीन नहीं आता तो इस वीडियो को देख लें

स्पेनिश सैनिकों ने वहां के लोगों को दो ही ऑप्शन दिए थे, या तो वो स्पेन के राजा के गुलाम बन जाएं वरना उनको मौत के घाट उतार दिया जाएगा। आप अगर वहां घूमने जायें तो आपको एक भयावह नज़ारा देखने को मिलेगा। ये चर्च आपको किसी पुराने खंडहर की तरह लगेगा। जहां बड़े पैमाने पर कत्लेआम हुआ था। ये इलाका अक्सर धुंध में डूबा रहता है। ऐसे में ये चर्च और ज्यादा डरावना लगता है।

पढ़ें- ये जवानी जो ना कराए वही कम हैः सूअर के खून से नहाती हैं ये मोहतरमा

ये घटना पहली बार नहीं घटी है। कई सालों पहले भी ये चर्च पानी के ऊपर आ गया था। और तब लोग वहां तक चलकर भी जा सकते थे। ये चर्च एक दर्दनाक समय की कहानी सुनाता है। जब कुछ मुट्ठी भर स्पेनिश सैनिकों ने वहां के लोकल मॉन्क को मजबूर और प्रताड़ित करके जबरन उनसे इस चर्च का निर्माण करवाया और धीरे-धीरे उनका अपना धर्म विलुप्त होता चला गया।

पढ़ें- मानो या मानोः दुनिया के सबसे ताकतवर राष्ट्रपति के घर में हैं भूत!

ये सब वहां के लोगों ने अपनी मर्जी से नहीं किया बल्कि बन्दूक की नोक पर उनसे ये सब करवाया गया। ये आर्किटेक्चर का एक बेहद सुन्दर नमूना है पर इसके निर्माण में किस तरह से लोगों का शोषण हुआ है, इसका अंदाजा लगा पाना बहुत मुश्किल है।

रोचक, रोमांचक और जरा हटके खबरें पढ़ने के लिए यहा क्लिक करें

Posted By: Abhishek Pratap Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस