फर्टिलिटी डॉक्टर का कारनामा 

नीदरलैंड में एक डॉक्टर ने अजीबो गरीब कारनामा किया जिसकी चौंकाने वाली खबर इन दिनों चर्चा में बनी हुई है। हांलाकि जिस डॉक्टर के बारे में ये खुलासा हुआ है, वह अब इस दुनिया में नहीं रहा है। जन करबात नाम का ये डॉक्टर 2017 में ही इस दुनिया से जा चुका है। पता चला है कि ये अपने क्लीनिक डोनेट किए गए स्पर्म को अपने स्पर्म से बदल देता था। अपनी इस हरकत के चलते वह आईवीएफ तकनीक से करीब 49 बच्चों का पिता बन गया। वैसे ये भी खबर है कि करबात का क्लीनिक भी अनियमितताओं और दूसरे गैरकानूनी काम करने की शिकायतों के कारण 2009 में बंद कर दिया गया था।

डीएनए रिपोर्ट से खुला राज

करबात का क्लीनिक नीदरलैंड में रोटर्डम के करीब बिजडोर्प शहर में था। टेलीग्राफ की खबर के मुताबिक डॉक्टर के धोखे का खुलासा हाल ही में हुई डीएनए जांच के बाद हुआ। एक सामाजिक संगठन के अनुरोध पर यह जांच निजमेगन शहर में कोर्ट के आदेश पर कराई गई थी। यह संगठन इस क्लीनिक में पैदा हुए बच्चों और उनके माता-पिता के कहने पर काम कर रहा था। 

इस तरह हुआ खुलासा 

डॉक्टर करबात से जुड़ी ये सारी कहानी इसी साल फरवरी में सामने आयी जब डच कोर्ट ने मामले की जानकारी मिलने पर डॉक्टर के डीएनए को बच्चों के डीएनए से मिलान करके जांच करने की इजाजत दी। करबात के खिलाफ कोर्ट में पहली बार 2017 में शिकायत की गई थी। जो क्लिनिक की मदद से पैदा हुए बच्चों और उनके अभिवावकों के एक समूह ने डॉक्टर की हरकतों पर शक होने के बाद की थी। शक होने की सबसे बड़ी वजह थी कई बच्चों की मिलीती जुलती शक्लें और आदतें। यहां तक की एक बच्चा चेहरे मोहरे से बिल्कुल डॉक्टर जैसा दिखता था। 

डॉक्टर का बयान भी बना वजह

खबरों की मानें तो 2017 में अपनी मौत से पहले डॉक्टर करबात ने एक बयान भी दिया था, जो शक की बुनियाद बना। उसने कहा था कि वो 60 से ज्यादा बच्चों का पिता बन चुका है। ये भी कहा जा रहा है डॉक्टर ने खुद ही कुबूल किया कि उसने कई बार डोनेट स्पर्म में अपना स्पर्म मिलाया था। करबात के शुक्राणु से जन्में कुछ  बच्चों का कहना है कि वह इस बात से नाराज नहीं हैं कि वे उनके पिता थे बल्कि उनको गुस्सा इसलिए है कि डॉक्टर ने उसकी मां के साथ धोखा किया।

Posted By: Molly Seth