50 के दशक में पहली बार दिखी 

1950 आैर 60 के दशक में पहली बार एक अनोखे अंडाकार आकार आैर सीमित अंतसज्जा के साथ पेश की गर्इ बबल कार उस दौर में यूरोप की सड़कों पर दौड़ते सस्ते आैर मजेदार वाहन का प्रतीक मानी जाती थी। अब बीएमडब्ल्यु के अपनी उस मशहूर आर्इस्टा नाम की कार के उत्पादन को बंद करने के करीब 56 साल बाद वो करिश्मा फिर नजर आने वाला है। दो स्विस भार्इ उस मशहूर टू सीटर कार का आधुनिक वर्जन पेश करने की तैयारी मे हैं। बीएमडब्ल्यु ने करीब 160,000 कारों के निर्माण के बाद उनका उत्पादन बंद कर दिया था। 

दो भार्इयों का सपना 

आधुनिक बबल कार को पेश करने का बीड़ा ओलिवर और मर्लिन ओबोटर नाम के दो भार्यों ने उठाया है। उनका इरादा इस साल दिसंबर के अंत तक इस कार को पेश करने का है। बबल कार को बनाने की घोषणा करने के बाद ही ओबोटर भार्इयों लगभग 7,200 कार बनाने का आॅडर्र मिल गया है । स्विस भार्इयों का कहना है कि वे पुरानी आर्इस्टा के पुराने सिंगल सिलेंडर वाले पुराने पेट्रोल इंजन को हटा कर उसके स्थान पर नया 20 हार्सपाॅवर का इलेक्ट्रिकल मोटर इंजन प्रयोग करेंगे लेकिन उसकी खास पहचान फ्रंट आेपन दरवाजे को वैसा ही रखेंगे। 

काम्पेक्ट कार 

कर्इ आधुनिक किक से स्टार्ट होने वाले स्कूटरों के डिजाइन बना चुके ओबोटर भार्इयों के पिता विम ओबोटर के दिमाग में इस कार को बनाने का विचार तब आया, जब उन्हें लगा कि ज्यादातर आधुनिक कारें मौजूदा दौर की जरूरत को देखते हुए आकार में बहुत ज्यादा बड़ी हैं। 24 साल के आॅपरेशनल चीफ ओलिवर ने बताया कि उन्होंने इस कार के दो प्रोटोटाइप माॅडल बनाये थे। इनमें से एक चीन में आैर दूसरा 2016 में जेनेवा मोटर शो में प्रर्दशित किया गया। 22 साल के चीफ मार्केटिंग आॅफिसर मर्लिन ने कहा कि दोनों जगहों पर उनके वाहन को जबरदस्त रिस्पांस मिला।  उन्होंने इसके रिर्जवेशन के 500 स्पाॅट रखे थे जो महज तीन चार दिन में भर गए।   

इटैलियन कंपनी की साझेदारी में निर्माण 

इस कार का नाम माइक्रोलीनो है आैर इसे इटैलियन कंपनी तजारी के सहयोग से बनाया जा रहा है। तजारी की इसके निर्माण में 50 प्रतिशत की साझेदारी है। निर्मातताआें का विचार है कि वे फिल्हाल 5,000 वाहनों का प्रतिवर्ष उत्पादन करेंगे। माइक्रोलीनो की स्टैंडर्ट रेंज 120 किलोमीटर है। वहीं इसकी टाॅप स्पीड 90 किलोमीटर प्रतिघंटा की है। इसे एक साधारण प्लग से, जो सामान्य रूप से 1.50 में बाजार में उपलब्ध हो जाता है, महज 4 घंटे में फुल चार्ज किया जा सकता है।  

Image and input courtesy Agency

Posted By: Molly Seth