शिमला,राज्‍य ब्‍यूरो। हिमाचल प्रदेश लोक सेवा आयोग के अध्‍यक्ष और तीन सदस्‍यों का शपथ ग्रहण समारोह अनिश्चितकाल के लिए स्‍थगित कर दिया गया है। बुधवार को प्रदेश सरकार ने राज्‍य सरकार ने लोक सेवा आयोग में अध्‍यक्ष और सदस्यों की नियुक्ति कर दी थी। इसमें डा. रचना गुप्‍ता को लोक सेवा आयोग का नया अध्‍यक्ष बनाया गया है। इससे पहले वह आयोग में ही सदस्य के पद पर कार्यरत थी।

पिछले काफी दिनों से अटकलें लगाई जा रही थी, कि लोक सेवा आयोग का नया अध्‍यक्ष बनाया जाएगा। इस फेहरिस्त में कई नामों पर चर्चा चल रही थी, लेकिन सरकार ने तमाम अटकलों को विराम देते हुए डा. रचना गुप्‍ता को अध्‍यक्ष तो बनाया किंतु वीरवार सुबह राजभवन में होने वाला शपथ ग्रहण समारोह टल गया है। अभी यह स्‍पष्‍ट नहीं हो पा रहा है कि अचानक शपथ ग्रहण समारोह क्‍यों टला। सूत्रों के अनुसार किसी व्‍यक्ति ने प्रदेश के मुख्‍य न्‍यायाधीश और राज्‍यपाल को मेल की थी। हालांकि यह कहना कठिन है कि उसी मेल के कारण समारोह टला है। सरकार ने इसके अलावा तीन सदस्‍य भी आयोग में नियुक्‍त किए हैं।

इनमें एक आइएएस अधिकारी राकेश शर्मा और सेवानिवृत्‍त कर्नल डा. राजेश कुमार शर्मा व डा. ओम प्रकाश शर्मा को भी सदस्य बनाया गया है। लोक सेवा आयोग में सदस्यों के पद काफी दिनों से खाली चल रहे थे। लोकसेवा आयोग में अधिकतम छह वर्ष या 62 वर्ष की आयु पूरी करने तक अध्‍यक्ष और सदस्यों का कार्यकाल तय किया गया है। इस विषय में राजभवन ने कोई भी प्रतिक्रिया नहीं दी है। देखना होगा कि शपथ ग्रहण समारोह कब होगा। हिमाचल प्रदेश में लोक सेवा आयोग में इस समय केवल दो ही पद भरे हुए हैं।

Edited By: Richa Rana