नई दिल्ली, जागरण डिजिटल डेस्क। देश आजादी के 75 साल पूरा होने के मौके पर अमृत महोत्सव मना रहा है। इस बीच, सुरक्षा एजेंसियों द्वारा स्वतंत्रता दिवस (Independence Day) पर आतंकी हमले के अलर्ट दिए गए हैं। इसे देखते हुए स्वतंत्रता दिवस समारोह के लिए रक्षा और गृह मंत्रलय की निगरानी में पुलिस, सेना, पैरा मिलिट्री और सुरक्षा एजेंसियों ने राजधानी में सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किए हैं।

प्रधानमंत्री आवास से लेकर लालकिला तक सुरक्षा के कड़े इंतजाम

दिल्ली को अभेद्य किले में तब्दील कर दिया गया है। 7 लोक कल्याण मार्ग स्थित प्रधानमंत्री आवास से लेकर लालकिला तक सुरक्षा के इतने कड़े बंदोबस्त किए गए हैं कि परिंदा भी पर नहीं मार सकता। शनिवार देर रात 12 बजे से ही दिल्ली की सभी सीमाएं भी सील कर दी गईं।

Also Read- High Security in Delhi: लाल किले के पास की दुकानें सील, जमीन से लेकर आसमान तक कड़ा पहरा

दिल्ली की सीमाओं पर व्यावसायिक वाहनों के प्रवेश पर रोक

रात 10 बजे के बाद दिल्ली की सभी सीमाओं पर व्यावसायिक वाहनों के प्रवेश पर भी पाबंदी लगा दी गई। निजी वाहनों को सघन तलाशी के बाद ही दिल्ली में प्रवेश करने दिया जा रहा है। सुरक्षा व्यवस्था में सेना के अलावा बीएसएफ, सीआरपीएफ, आइटीबीपी, एसएसबी, एनएसजी, एसपीजी, एयरफोर्स व दिल्ली पुलिस को लगाया गया है।

इमारतों की छतों पर एंटी एयरक्राफ्ट और एयर डिफेंस गन लगाए

लालकिला, आइएसबीटी, गीता कालोनी फ्लाईओवर, सिविक सेंटर (निगम मुख्यालय) समेत 200 से अधिक ऊंची इमारतों की छतों पर एंटी एयरक्राफ्ट और एयर डिफेंस गन लगाए गए हैं। इन हथियारों के जरिए हवाई हमले को मिनटों में ध्वस्त किया जा सकेगा।

इससे पहले शनिवार को सेना के हेलीकाप्टर से दिनभर लालकिले के आसपास सुरक्षा का जायजा लिया गया। पुलिस आयुक्त संजय अरोड़ा ने सभी 15 जिले की पुलिस को अलर्ट रहने के निर्देश दिए हैं। जगह-जगह उच्च क्षमता वाले कई हजार कैमरे लगाए गए हैं।

Edited By: Abhishek Tiwari