नोएडा, जागरण डिजिटल डेस्क। नोएडा में महिला से बदसलूकी के मामले में 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजे गए भाजपा नेता श्रीकांत त्यागी के समर्थन में त्यागी समाज के सैकड़ों लोग प्रदर्शन कर सकते हैं। प्रदर्शन की आशंका को लेकर नोएडा पुलिस अलर्ट हो गई है।

पुलिस ने शहर और ग्रैंड ओमेक्स सोसायटी के चारों तरफ सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी है। सभी संभावित जगहों पर पुलिसकर्मियों की तैनाती कर दी गई है। टीमें हर गतिविधि पर नजर रख रही हैं। समूह में एकत्र हुए लोगों से पूछताछ की जा रही है। संबंधित अधिकारी सुरक्षा का जायजा ले रहे हैं।

इसके साथ ही सात अगस्त को ग्रैंड ओमेक्स सोसायटी में हंगामा कर फरार होने वाले चार आरोपितों की तलाश में पुलिस की टीमें दबिश दे रही हैं। वहीं इस मामले में गिरफ्तार किए गए छह आरोपितों के पक्ष में कई लोग इंटरनेट मीडिया के विविध प्लेटफार्म पर मुहिम चला रहे हैं।

श्रीकांत सहित 14 लोगों की संपत्तियों की जानकारी जुटा रही पुलिस

इस मामले में श्रीकांत त्यागी और केस से जुड़े करीब 14 लोगों पर पुलिस कमिश्नर ने शिकंजा कसना शुरू किया है। नोएडा, ग्रेटर नोएडा, यमुना प्राधिकरण और दादरी तहसील को लिखित पत्र जारी कर 14 नामों की सूची भेजी गई है। पत्र से सभी की रजिस्टर्ड अचल संपत्ति का ब्योरा मांगा गया है, ताकि गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई की जा सके।

उल्लेखनीय है कि नोएडा की ग्रैंड ओमेक्स सोसायटी (Grand Omaxe Society) में महिला से बदसलूकी के मामले में भाजपा नेता श्रीकांत त्यागी को (Shrikant Tyagi) सूरजपुर स्थित कोर्ट ने 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा था। इसे लेकर भाजपा नेता ने जमानत याचिका भी दाखिल की थी, हालांकि कोर्ट ने उसे बेल देने से इनकार कर दिया था।

राखी बांधने नहीं पहुंची श्रीकांत की बहन

नोएडा की ग्रैंड ओमेक्स सोसायटी में महिला से अभद्रता के मामले में जेल में बंद भाजपा नेता श्रीकांत त्यागी को राखी बांधने उनकी बहन नहीं पहुंची। जेलर जेपी तिवारी ने बताया कि श्रीकांत से मिलने के लिए त्योहार पर उनकी बहन नहीं आई थीं।

उधर, श्रीकांत की चचेरी बहन रश्मिका त्यागी ने एक वायरल वीडियो में कहा कि ऐसा पहली बार हुआ है कि वह अपने भाई को राखी नहीं बांध सकी है।

ये भी पढ़ें-

Shrikant Tyagi को लेकर एक और चौंकाने वाला खुलासा, क्या भाजपा नेताओं की आंखों में चुभने लगा था श्रीकांत त्यागी

नोएडा में Twin Tower ढहाने के लिए 3700 पिलर में होगा ब्लास्ट, किए गए 9800 छेद; 15 दिनों तक लगेगा विस्फोटक

Edited By: Abhishek Tiwari