नई दिल्ली [संतोष कुमार सिंह]। Indian Railway: दैनिक यात्रियों की यात्रा पहले से अधिक सुविधाजनक हो, इसके लिए आधुनिक सुविधाओं वाली मेनलाइन इलेक्टि्रक मल्टीपल यूनिट (एमईएमयू) ट्रेन चलेगी। उत्तर रेलवे में पहली बार दिल्ली और रोहतक के बीच थ्री फेज एमईएमयू ट्रेन शुरू की गई है। इसके प्रत्येक कोच में जैविक शौचालय, आरामदायक सीट सहित यात्रियों को अन्य सुविधाएं मिलेंगी।

लोकल ट्रेन में सुविधाओं के अभाव से यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ता है। परंपरागत एमईएमयू में पर्याप्त संख्या में शौचालय नहीं होने से यात्रियों विशेषकर बीमार लोगों व बच्चों को परेशानी होती थी। नई एमईएमयू में यह परेशानी दूर कर दी गई है। इसके प्रत्येक कोच में दो जैविक शौचालय हैं।

एमईएमयू में 12 कोच लगाए जाते हैं, लेकिन दिल्ली मंडल के ईएमयू कार शेड में कुल 16 कोच लगाए गए हैं। नई एमईएमयू नई दिल्ली- रोहतक- पुरानी दिल्ली के बीच 04453/ 04454/ 04456/ 04457 नंबर से चलेगी।

इंटीग्रल कोच फैक्ट्री चेन्नई में तैयार इस ट्रेन में यात्रियों की सुविधा के लिए आरामदायक फोम वाली सीट, स्टील फ्लो¨रग, आरामदायक हैंडल, हाई स्पीड पंखे, स्लाइडिंग दरवाजे लगाए गए हैं।

इसके अलावा, यात्रियों की सुरक्षा के लिए सभी कोच में सीसीटीवी कैमरे लगे हैं। लोको पायलट और गार्ड की सुविधा के लिए आरामदायक केबिन है। इसकी अधिकतम गति 130 किलोमीटर प्रति घंटा है।

दिल्ली-एनसीआर के यात्रियों को जल्द मिलेगी और राहत

यहां पर बता दें कि उत्तर रेलवे की ओर से लंबी दूरी की एक्सप्रेस ट्रेनों के बाद अब पिछले लगभग ढाई वर्षों से बंद लोकल ट्रेनों (Local Train) का परिचालन शुरू किया जा रहा है। सितंबर के पहले सप्ताह तक इन सभी ट्रेनों के परिचालन शुरू कर दिया जाएा।

पिछले दिनों इन्हें चरणबद्ध तरीके से इनकी घोषणा की गई। उत्तर रेलवे  ने 65 अन्य लोकल ट्रेनें और आठ एक्सप्रेस ट्रेनें चलाने की घोषणा की है। इनमें से 28 ट्रेनें दिल्ली एनसीआर के अन्य शहरों से चलेंगी।

बता दें कि इन सभी को फिलहाल अनारक्षित एक्सप्रेस विशेष ट्रेन का दर्जा देकर चलाने का फैसला किया गया है। इससे दैनिक यात्रियों को आने जाने में हो रही परेशानी दूर होगी लेकिन उन्हें एक्सप्रेस का किराया देना पड़ेगा। उत्तर रेलवे द्वारा घोषित ज्यादातर ट्रेनें सितंबर के पहले सप्ताह से पटरी पर लौटेंगी।

Edited By: Jp Yadav