नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। मुफ्त की रेवडि़यां बांटने को लेकर आप और भाजपा में चल रही सियासी रार बढ़ रही है। शुक्रवार को भी दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने केंद्र सरकार पर निशाना साधा। उनके साथ उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने भी केंद्र सरकार को लोन और टैक्स माफी योजना पर घेरा।

इसके जवाब में केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि भ्रम और अफवाह फैलाना अरविंद केजरीवाल की पुरानी आदत है। भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने भी कहा कि केजरीवाल के लिए रेवड़ी सत्ता पाने के लिए लोगों को फंसाने का चारा है। मोदी सरकार की योजनाएं उनसे बहुत अलग हैं।

केंद्र सरकार के नेता जहां लगातार इस पर बचाव कर रहे हैं, तो विपक्ष खासतौर से आम आदमी पार्टी के नेता अपने तर्क दे रहे हैं। शुक्रवार को मुख्यमंत्री ने केंद्र सरकार पर निशाना साधा। उनके साथ राज्यसभा सदस्य संजय सिंह और उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने भी केंद्र सरकार की लोन और टैक्स माफी योजना पर घेरा।

वहीं, संबित पात्रा ने कहा कि गुजरात में बेरोजगारी भत्ता देने का वादा करने वाले केजरीवाल दिल्ली में पंजीकृत 15 लाख से ज्यादा लोगों को भत्ता नहीं दे पा रहे हैं।भारत के नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (कैग) की रिपोर्ट के अनुसार दिल्ली पर कर्ज बढ़ा है। विकास के लिए आवंटित फंड का इस्तेमाल नहीं हुआ। 39 योजनाएं सिर्फ कागजों पर है।

गरीबों के लिए बने मकान आवंटित नहीं किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि शीला दीक्षित सरकार द्वारा बिजली वितरण कंपनियों को तीन सौ करोड़ रुपये सब्सिडी देने को आप नेता भ्रष्टाचार बताते थे। अब आप सरकार तीन हजार करोड़ रुपये की सब्सिडी दे रही है।

Edited By: Pradeep Kumar Chauhan