पणजी। गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पार्रिकर ने कहा है कि इंडियन मुजाहिदीन के सहसंस्थापक यासीन भटकल के आतंकवाद संबंधी मामलों की जांच कर रही एनआइए ने पिछले हफ्ते जिस स्थानीय युवक को गिरफ्तार किया था उसके भटकल के साथ संबंध थे।

उन्होंने बुधवार को संवाददाताओं से कहा, गिरफ्तार युवक के भटकल के साथ संबंध थे मगर उसके बारे में जानने के बाद युवक उससे अलग हो गया था। उन्होंने बताया कि यह युवक वही व्यक्ति था जिसने एनआइए को भटकल के रहने की जगह दिखाई थी। इस बीच चिंबल गांव के झुग्गीवासी उनके बीच रहने वाले युवक को पकड़े जाने से हैरान हैं। एनआइए ने युवक का नाम सार्वजनिक नहीं किया है। भटकल यहां के अंजुना गांव में 2011-12 के दौरान किराये के मकान में रहा था, जहां से एनआइए ने बम बनाने के लिए इस्तेमाल की जाने वाली सामग्री बरामद की है।

पढ़ें : चिंता: गोवा तट की ओर बढ़ रहा विस्फोटकों से लदा जहाज

उधर, ट्रांजिट वारंट पर हैदराबाद लाए गए भटकल के करीबी असदुल्लाह अख्तर को फरवरी में हुए दोहरे बम विस्फोट के मामले में अदालत में पेश किया गया। दिलसुखनगर में 21 फरवरी को हुए दो बम धमाकों में 17 लोगों की मौत हो गई थी। जबकि सौ से अधिक घायल हो गए थे।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप