कोलकाता [जासं]। बस के इंतजार में खड़ी एक युवती को चाकू दिखाकर हैवानों ने पहले उसका अपहरण किया, फिर सुनसान जगह पर ले जाकर उसकी अस्मत तार-तार कर दी। भद्र लोक की नगरी के नाम से मशहूर कोलकाता की छवि पर काला धब्बा लगाने वाली सामूहिक दुष्कर्म की ये घटना रविवार रात हुई।

जानकारी के मुताबिक रविवार रात 21 वर्षीया एक युवती दक्षिण कोलकाता स्थित एक शापिंग माल से अपनी सहकर्मियों के साथ घर की तरफ लौट रही थी। सहकर्मियों को रास्ते में छोड़ने के बाद वह वाटगंज स्थित खिदिरपुर चौराहे के पास खड़ी होकर हावड़ा जाने के लिए बस का इंतजार कर रही थी। उसी समय एक कार उसके पास आकर और उसमें बैठे लोगों ने चाकू दिखाकर उसे कार में बैठने के लिए कहा। युवती डरकर कार में बैठ गई। इसके बाद वे उसे कार से कुछ दूरी पर ले गए और वहां कार से उतारकर ट्रक में बैठाया।

इसके बाद वे वहां से युवती को द्वितीय हुगली ब्रिज के पास एक सुनसान जगह पर ले गए और वहां उसके साथ बारी-बारी से दुष्कर्म किया। दुष्कर्म के बाद वे युवती को बाबूघाट इलाके में ले गए और वहां छोड़कर भाग गए। पीड़िता के मुताबिक उससे दुष्कर्म करने वाले पांच से छह जन थे। उन्होंने उसका मोबाइल फोन भी छीन लिया था लेकिन बाद में लौटा दिया।

पीडि़ता ने पूरी रात बाबूघाट इलाके मे काटी। भोर होते ही वह किसी तरह हावड़ा स्टेशन के 15 नंबर प्लेटफार्म पर पहुंची और अपने मौसा को फोनकर घटना के बारे में बताया। परिवारवालों ने स्टेशन पहुंचकर उसे हावड़ा स्टेट जनरल अस्पताल में भर्ती करवाया। मेडिकल जांच में प्राथमिक रूप से डाक्टरों ने युवती के साथ दुष्कर्म होने की पुष्टि की है। घटना की जानकारी होते ही कोलकाता पुलिस के डीसी पोर्ट ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

पढ़ें : आठवीं की छात्रा से दुष्कर्म

जांच में मदद के लिए पुलिस सड़कों में लगी सीसीटीवी कैमरों की मदद ले रही है। घटना पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने सिलीगुड़ी में कहा कि उन्होंने पुलिस को अविलंब दोषियों को गिरफ्तार करने का निर्देश दिया है और उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई करने को कहा है। दोषियों को किसी भी सूरत में बख्शा नहीं जाएगा। उन्होंने प्रशासन को पीड़िता के बेहतर इलाज के लिए उसे बेल व्यू क्लिनिक में भर्ती कराने का भी निर्देश दिया।

विरोधी दल के नेता डा. सूर्यकांत मिश्रा ने कहा कि राज्य सरकार कानून-व्यवस्था को बनाए रखने और महिलाओं को सुरक्षा प्रदान करने में विफल रही है। राज्य के विभिन्न स्थानों पर महिलाओं से छेड़खानी, दुष्कर्म व अन्य आपराधिक घटनाएं नियमित रूप से हो रही हैं, जो सरकार की ऐसी घटनाओं को नियंत्रित करने में विफलता को उजागर कर रही है।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस