नई दिल्ली, आइएएनएस : क्या आपको पता है, भारतीय दर्शक रोजाना करीब 70 मिनट वीडियो देखता है। उसके वीडियो देखने का अंतराल सप्ताह में करीब 12.5 गुना हो जाता है। मजेदार तो यह, एक दर्शक वीडियो देखने के लिए विभिन्न माध्यमों का इस्तेमाल करता है।

ईरोज नाउ-केपीएमजी की सर्वे रिपोर्ट  बताती है कि दर्शक एक नियत समय पर 2.5 से ज्यादा वीडियो प्लेटफार्म पर जाता है। उसकी पहली पसंद स्मार्ट टीवी और इस प्रकार की बड़ी स्क्रीन होती है। निष्कर्ष बताते हैं कि 30 फीसद लोगों ने ओवर-द-टॉप (ओटीटी) प्लेटफॉर्म पर सिनेमा देखने को वरीयता दी। रिपोर्ट में इस प्रकार की कई अन्य बातें  सामने आई हैं।

केवल भारत में ही वर्ष 2022 तक इंटरनेट वीडियो ट्रैफिक की पहुंच 13.5 एक्साबाइट (ईबी) हो जाएगी, जो वर्ष 2017 में 1.5 ईबी थी। इसी प्रकार वर्ष 2022 तक कुल इंटरनेट ट्रैफिक में 77 फीसद योगदान वीडियो का होगा। फिलहाल भारत में 30 से ज्यादा वीडियो ऑन डिमांड (वीओडी) प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध हैं। मौलिक सामग्री के साथ नई लाइब्रेरी बनाने के लिए लोग इस क्षेत्र में निवेश भी कर रहे हैं। 

 

Posted By: Jagran News Network

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप