मुबई। भारतीय बल्लेबाज विराट कोहली वेस्टइंडीज के खिलाफ टी-20 विश्व कप सेमीफाइनल में बहुत भाग्यशाली रहे कि वे दो गेंदों में तीन बार रन आउट होने से बचे।

ड्वेन ब्रावो भारत की पारी का नौवां ओवर डाल रहे थे, उन्होंने दूसरी गेंद बाउंसर डाली। ब्रावो ने तीसरी गेंद भी बाउंसर डाली जिस पर अंपायर ने नोबॉल करार दी, जिस पर विराट को फ्रीहिट मिली। ब्रावो ने यह धीमी गेंद डाली, जिस पर विराट खेलने से चूके, वे बाय रन के दौड़े लेकिन उन्हें अजिंक्य रहाणे ने मना किया। विराट लौटते इससे पहले विकेटकीपर दिनेश रामदीन ने स्टम्प्स पर अंडर आर्म थ्रो किया जो चूक गया। गेंदबाज ब्रावो ने फॉलोथ्रू में से आगे आते हुए गेंद पकड़ी और अंडर आर्म थ्रो किया, लेकिन वे भी लेग स्टंप्स मामूली अंतर से चूके। इसके बाद विराट वापस क्रीज में पहुंचे। वेस्टइंडीज के खिलाड़ी इस तरह एक गेंद पर दो बार विराट को रन आउट का मौका देकर स्तब्ध थे। उस वक्त भारत का स्कोर 69 था और विराट मात्र 1 रन बनाकर खेल रहे थे।

विराट ने अगली गेंद को डीप स्क्वेयर लेग पर खेला और जब वे दूसरा रन बना रहे थे तब विकेटकीपर रामदीन के पास उन्हें रन आउट करने का सुनहरा मौका था, लेकिन वे गेंद पकड़ ही नहीं पाए, जबकि विराट उस समय क्रीज में पहुंचे नहीं थे।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

खेल की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: sanjay savern

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस