कोलकाता, जागरण संवाददाता। क्रिकेट विश्व कप सेमीफाइनल के निर्णायक क्षणों में धौनी के रनआउट होने से पश्चिम बंगाल के हुगली में उनके एक समर्थक को ऐसा सदमा लगा कि उसकी जान ही चली गई। मृतक का नाम श्रीकांत माइती (33) है। प्राप्त जानकारी के मुताबिक श्रीकांत घर पर परिवार के सदस्यों के साथ बुधवार को भारत-न्यूजीलैंड का विश्व क्रिकेट कप सेमीफाइनल मैच देख रहे थे।

भारत को लगे शुरुआती झटकों के बाद जब रवींद्र जडेजा और महेंद्र सिंह धौनी क्रीज पर जम गए थे, तब समूचे देशवासियों की तरह श्रीकांत में भी भारत के फाइनल में पहुंचने की उम्मीद जगी थी, लेकिन तभी धौनी रनआउट हो गए। यह देखकर श्रीकांत स्तब्ध हो गए। अचानक उनकी तबीयत बिगड़ गई और थोड़ी देर में बेसुध हो गए।

परिजन उन्हें तुरंत स्थानीय ग्रामीण स्वास्थ्य केंद्र ले गए, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। चिकित्सकों के मुताबिक दिल का दौरा पड़ने से उनकी मौत हुई है। श्रीकांत साइकिल गैरेज के मालिक थे। उन्हें क्रिकेट काफी पसंद था।

उनके परिवार के लोगों का कहना है कि श्रीकांत ने विश्वकप में टीम इंडिया के सभी मैच देखे थे। भारत के मैच जीतने पर वह बहुत खुशी मनाते थे और हारने पर उदास हो जाते थे। भारत के सेमीफाइनल में पहुंचने के बाद श्रीकांत भारत के विश्वकप जीतने को लेकर बेहद आशावादी हो गए थे।

बिहार में भी एक मौत: बिहार के किशनगंज में भी व‌र्ल्ड कप के सेमीफाइनल मुकाबले को देख रहे एक अस्पताल कर्मी की हृदयाघात से मौत हो गई। इसके बाद सोशल मीडिया में यह खबर फैलने लगी कि भारत की हार से क्रिकेट प्रेमी अशोक की हृदयाघात से मौत हो गई। परिजन का कहना है कि मैच चल ही रहा था कि अचानक वह कुर्सी से नीचे गिर गए। आनन-फानन उन्हें सदर अस्पताल ले जाया गया। वहां चिकित्सकों ने जांचोपरांत अशोक पासवान को मृत घोषित कर दिया। दूसरी बार उन्हें हृदयाघात आया था।

Posted By: Nitin Arora

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप