नई दिल्ली, प्रेट्र। रेलवे सुरक्षा बल (RPF) के पास केंद्रीय सुरक्षा बलों में सर्वाधिक महिला कर्मी हैं। एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि आरपीएफ में दस फीसद महिलाएं हैं। बाकी अर्धसैनिक बल केंद्रीय गृह मंत्रालय के अधीन हैं, लेकिन आरपीएफ रेल मंत्रालय के तहत आता है।

आरपीएफ के महानिदेशक अरुण कुमार ने मंगलवार को बताया कि वर्ष 2019 में कई गई भर्तियों के चलते आरपीएफ में कुल बल का दस फीसद महिलाएं हो गई हैं। आरपीएफ में कुल 80 हजार जवान हैं जिनमें आठ हजार महिलाएं हैं। आरपीएफ में सब इंस्पेक्टर के पद के लिए 1121 उम्मीदवारों (823 पुरुष और 298 महिलाओं) ने आवेदन किया था। इनमें से 929 उम्मीदवारों (682 पुरुष और 247 महिलाओं) ने शुरुआती प्रशिक्षण के बाद कामकाज संभाल लिया है। इसी तरह आरपीएफ में कांस्टेबल पद के लिए 5,850 (3350 पुरुष और 2500 महिलाओं) को चयनित कर प्रशिक्षण के बाद पदभार सौंप दिया गया है। जबकि बैंड में 1044 कांस्टेबलों की भर्ती की प्रक्रिया जारी है।

मार्च 2019 तक सेंट्रल इंडस्ट्रीयल सिक्योरिटी फोर्स (CISF) में सर्वाधिक महिला जवान (5.55 फीसद) थीं। सीआइएसएफ के कुल 1,56,013 जवानों में से केवल 8,588 महिलाएं हैं। इसी तरह सीआरपीएफ के कुल 2,96,382 अफसरों में से 7,824 या 2.64 फीसद महिलाएं हैं। आइटीबीपी के 80 हजार जवानों में 2 हजार महिलाएं हैं। यह कुल बल का महज 2.5 फीसद है।

इसी तरह सशस्त्र सीमा बल (SSB) के 2,45,000 जवानों में 5,129 महिलाएं हैं। यानी महिला सुरक्षा कर्मियों का अनुपात महज 2.12 फीसद है।

Posted By: Dhyanendra Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस