श्रीनगर, जेएनएन। उत्तरी कश्मीर में नियंत्रण रेखा (एलओसी) से सटे टंगडार (कुपवाड़ा) सेक्टर में गुरुवार को पाकिस्तानी सैनिकों ने ब्लॉक डेवलपमेंट काउंसिल (बीडीसी) चुनाव प्रक्रिया में बाधा डालने का प्रयास करते हुए नागरिक इलाकों और अग्रिम सैन्य ठिकानों पर गोलाबारी की। भारतीय जवानों ने जवाबी कार्रवाई में टंगडार के सामने गुलाम कश्मीर के लाला एथमुकाम इलाके में एक पाक चौकी और एक आतंकी लांचिंग पैड को तबाह कर दिया।

वहीं, तीन पाक सैनिकों के मारे जाने की भी सूचना है। इससे पहले पाक गोलाबारी में एक महिला की मौत हो गई और सात अन्य लोग जख्मी हो गए। पाक सैनिकों ने टंगडार में द्रंगयारी और बलखंडी इलाके में तोप और मोर्टार से गोलाबारी की। इससे तीन मकान क्षतिग्रस्त हो गए और एक महिला समेत चार ग्रामीण जख्मी हो गए। चारों घायलों को सेना ने तुरंत निकटवर्ती अस्पताल पहुंचाया। जहां डॉक्टरों ने महिला को मृत लाया घोषित कर दिया। उसकी पहचान हमीदा के रूप में हुई है।

इसके अलावा द्रंगयारी गांव में भी चार ग्रामीण गोलाबारी में जख्मी हुए हैं। इसके बाद भारतीय सेना ने कार्रवाई करते हुए टंगडार के सामने गुलाम कश्मीर में नीलम घाटी के लाला एथमुकाम इलाके को निशाना बनाया। कुछ ही देर में वहां की पाक चौकियों से आग की लपटें और धुएं के गुब्बार उड़ते नजर आने लगे। सूत्रों की मानें तो इस कार्रवाई में एथमुकाम स्थित एक लांचिंग पैड के अलावा एक पाक चौकी को भारी नुकसान पहुंचा है। जबकि तीन पाक सैनिकों या आंतकियों के मारे जाने की सूचना है।

भारतीय सेना की जवाबी कार्रवाई के बाद छह घंटे तक पाकिस्तानी बंदूकें खामोश रहीं, लेकिन शाम चार बजे के बाद पाक सैनिकों ने फिर गोलाबारी शुरू कर दी। इस बीच, पाकिस्तानी सैनिकों ने टंगडार के अलावा त्रेहगाम, कुपवाड़ा में भी अग्रिम भारतीय सैन्य चौकियों व नागरिक ठिकानों पर गोलाबारी की, जिसका भारतीय जवानों ने मुंहतोड़ जवाब दिया है। गोलाबारी के उर से बड़ी संख्या में ग्रामीणों ने बंकरों में शरण ले ली है। रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता के अनुसार, जवाबी कार्रवाई में पाकिस्तान को भारी नुकसान पहुंचा है। सभी फील्ड कमांडरों को पाकिस्तान के दुस्साहस का मुहंतोड़ जवाब देने के लिए कहा गया है। 

Posted By: Krishna Bihari Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप