नई दिल्ली, एएनआइ। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने कोरोना से निपटने से भारत के प्रयासों की सराहना करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इन उपायों को जन आंदोलन बना दिया। भारत में डब्ल्यूएचओ के प्रतिनिधि डा.रोड्रिको ओफरिन ने कहा कि जिस तेजी से भारत में इस बीमारी की जांच व रोकथाम की गई और नागरिकों को कोराना संबंधी नियमों का पालन करने के लिए प्रेरित किया गया वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रयासों से संभव हुआ। उन्होंने इन प्रयासों को जन आंदोलन बना दिया।

उन्होने कहा कि भारत सरकार ने इस दौरान जो लचीलापन दिखाया वह गर्व करने वाला है। 130 करोड़ की आबादी, 37 राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों और 770 जिलों वाले इस देश में जिस मुस्तैदी से चिकित्सा प्रबंध किए गए वे बहुत गर्व करने वाली बात है। डा.ओरिफिन ने देश में चल रहे टीकाकरण अभियान की भी प्रशंसा की है। उन्होंने कहा कि जिस तत्परता और अनुशासन से भारत में टीकाकरण हो रहा है वह हमारी जिम्मेदारी की भावना को प्रदर्शित कर रहा है। उन्होंने कहा कि भारत में अब साठ लाख से अधिक लोगों को टीका लगाया जा चुका है। यहां सबसे ज्यादा तेजी से टीकाकरण हो रहा है। 

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, भारत हाल ही में COVID-19 के खिलाफ 60 लाख लोगों का सबसे तेजी से टीकाकरण करने वाला देश बन गया है। अमेरिका को इस मुकाम तक पहुंचने में 26 दिन लगे, ब्रिटेन को 46 दिन लगे, भारत ने सबसे तेज 24 दिन में यह उपलब्धि हासिल की।

17 राज्यों में 24 घंटों में कोरोना से एक भी मौत नहीं

देश में कोरोना महामारी का असर लगातार कम हो रहा है। बीते 24 घंटों में देश के 17 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में एक भी मौत नहीं हुई। हालांकि इस दौरान संक्रमण के 12,923 नए मामले सामने आने से अब तक संक्रमित होने वालों की संख्या बढ़कर 1,08,71,294 हो गई। वहीं 108 और लोगों की मौत से कोरोना से मरने वालों का आंकड़ा बढ़कर 1,55,360 हो गया।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप