जागरण संवाददाता, नई दिल्ली। एलएलबी छात्रा प्रियदर्शनी मट्टू की दुष्कर्म के बाद हत्या के मामले में उम्रकैद की सजा काट रहे संतोष कुमार सिंह द्वारा पढ़ाई पूरी करने के लिए बार-बार पैरोल की मांग करने पर हाई कोर्ट ने उसके वकील से पूछा है कि आखिर उसकी एलएलएम की पढ़ाई कब पूरी होगी। हाई कोर्ट ने यह सवाल तब किया जब उसे पता चला कि दोषी 2012 से एलएलएम की पढ़ाई कर रहा है और पढ़ाई के नाम पर बार-बार पैरोल की मांग कर रहा है।

-प्रियदर्शनी मट्टू की हत्या के दोषी द्वारा बार-बार पैरोल मांगने पर सवाल

न्यायमूर्ति मुक्ता गुप्ता ने उसके वकील से पूछा कि और कितने साल लगेंगे पढ़ाई पूरी होने में। हाई कोर्ट ने उसके वकील को पढ़ाई के संबंध में सभी दस्तावेज व जानकारी के साथ हलफनामा पेश करने का आदेश दिया है। साथ ही सीबीआइ व दिल्ली सरकार से जवाब मांगा है।

संतोष ने एलएलएम की परीक्षा देने के लिए 19 मई से एक हफ्ते के लिए पैरोल की मांग की है। दिल्ली सरकार ने उसको पैरोल दिए जाने का विरोध करते हुए कहा कि वह पहले भी इसी आधार पर पैरोल ले चुका है। ज्ञात हो कि 1996 में एलएलबी छात्रा प्रियदर्शनी मट्टू की दुष्कर्म के बाद हत्या कर दी गई थी। 2006 में हाई कोर्ट ने संतोष को इस मामले में दोषी करार देते हुए मौत की सजा सुनाई थी। 2010 में सुप्रीम कोर्ट ने उसकी मौत की सजा को उम्रकैद में तब्दील कर दिया था।

 

By Bhupendra Singh