दिल्ली, जेएनएन: दिल्ली, हैदराबाद और बेंगलूरू के अलावा पश्चिमी राज्यों के असैन्य हवाईअड्डों को हाई अलर्ट पर रखा गया है। भारतीय सेना द्वारा नियंत्रण रेखा के पार लक्षित हमले किए जाने के बाद सुरक्षा इंतजामों को और पुख्ता करने के लिए यह कदम उठाया गया है।

महत्वपूर्ण शहरों में बढ़ाई गई सुरक्षा

दिल्ली, मुंबई, हैदराबाद जयपुर, अहमदाबाद, और बेंगलूर हवाईअड्डों को किसी भी तरह के हमले या छेड़छाड़ से निबटने के लिए सर्तकता और सुरक्षा बढ़ाने को कहा गया है। खुफिया एजेंसियों के मुताबिक पीओके में सर्जिकल स्ट्राइक के बाद पाकिस्तान में बौखलाहट है। लश्कर, जैश के आतंकी स्लीपर्स सेल के जरिए महत्वपूर्ण त्यौहारों के दौरान आतंकी हमले को अंजाम दे सकते है। देश के बड़े शहरों में भीड़भाड़ वाली जगहों को आतंकी निशाना बना सकते हैं।

आखिर क्यों थर्राते हैं पकिस्तान के सैनिक भारत की इस रेजिमेंट का नाम सुनकर

पढ़ें- मसूद अजहर पर प्रतिबंध नहीं लगा तो जाएगा खतरनाक संदेश: विदेश मंत्रालय

हवाइ अड्डों पर अलर्ट जारी

सीआईएफएफ के महानिदेशक ओ पी सिंह ने बताया कि महत्वपूर्ण हवाईअड्डों को हाई अलर्ट पर रखा गया है, वहां सुरक्षा बढ़ा दी गई है। अधिकारियों ने बताया कि इस बाबत नागरिक उड्डयन सुरक्षा ब्यूरो ने निर्णय को अधिसूचित कर दिया है। जिसके बाद हवाईअड्डों को, खासकर मुबंई और दिल्ली जैसे बेहद संवेदनशील हवाईअड्डों को हाई अलट पर रखा गया है।

देखिए 1 मिनट में इस समय की सभी बड़ी खबरें

उन्होंने बताया कि केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल के प्रमुख ने भी संवदेशील हवाईअड्डों पर तैनात अपने आला अधिकारियों के साथ हाल ही में बैठक में हवाईअड्डों की सुरक्षा का जायजा लिया।

अधिकारियों ने बताया कि सभी हवाईअड्डों की सुरक्षा का जायजा लिया गया लेकिन इनमें से कुछ को अतिरिक्त सतर्कता बरतने को कहा गया है। सूत्रों के मुताबिक किसी भी संभावित आतंकी हमले को नाकाम करने के लिए काउंटर सेबोटेज दलों, बम स्क्वॉड और कमांडो दलों को अतिरिक्त सर्तक रहने को कहा गया है।

पढ़ें- व‌र्द्धमान बम ब्लास्ट के आरोपी समेत पांच पकड़े गए

Posted By: Abhishek Pratap Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप