बेंगलुरू, एएनआइ। कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने राज्य में साप्ताहिक बंदी को हटाने का फैसला किया है। मुख्यमंत्री बसवराज ने जानकारी देते हुए बताया कि, सरकार ने राज्य की स्थिति का विश्लेषण करने के बाद साप्ताहिक कर्फ्यू को हटाने का निर्णय लिया है। उन्होंने कहा कि, राज्य सरकार कोरोना गाइडलाइन्स के तहत फिर से राज्य की स्थिति का विश्लेषण करेगी, इसके बाद ही राज्य में ओर ढील दिए जाने पर फैसला किया जाएगा।

दरअसल, मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई की अध्यक्षता में शुक्रवार को हुई उच्च स्तरीय समिति की बैठक हुई थी। इस बैठक में साप्ताहिक कर्फ्यू हटाए जाने का फैसला लिया गया, हालांकि, रात्रि कर्फ्यू (रात 10 बजे से सुबह पांच बजे तक) जारी रहेगा। यह फैसला मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई की विशेषज्ञों, मंत्रियों व वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक में लिया गया। राजस्व मंत्री आर अशोक ने कहा कि, शनिवार और रविवार को कर्फ्यू का नियम हटाया जा रहा है। यह निर्णय विशेषज्ञों की रिपोर्ट और वर्तमान स्थितियों को देखते हुए लिया गया है। राज्य में अस्पताल में भर्ती कराने की दर पांच फीसदी हो गई है। अगर इसमें फिर इजाफा होता है तो साप्ताहित बंदी फिर लागू कर दी जाएगी।

आपको बता दें कि, देश में बीते 24 घंटे के अंदर कोरोना के 3.06 लाख केस सामने आए हैं। इनमें कर्नाटक में पिछले 24 घंटे के भीतर कोरोना के 50,210 नए मामले मिले हैं। कर्नाटक में ये तीसरी लहर के दौरान एक दिन में मिलने वाले सबसे ज्यादा केस हैं। इससे पहले राज्य में 5 मई 2021 को कर्नाटक में 50,112 मामले सामने आए थे। रविवार को राज्य में 19 मौतें भी दर्ज की गईं है, यहां एक्टिव मामले 3,57,796 हैं।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, अब तक पूरे भारत में कोविड की 162.73 करोड़ वैक्सीन डोज दी जा चुकी हैं। राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के पास अभी 13.83 करोड़ से अधिक शेष और अप्रयुक्त कोविड वैक्सीन डोज उपलब्ध हैं। 

Edited By: Ashisha Rajput