नई दिल्ली, जेएनएन/एजेंसी। उत्तर भारत के पर्वतीय इलाकों में हुई बर्फबारी और बारिश ने एकबार फिर ठंड बढ़ा दी है। उत्तराखंड के ऊंचाई वाले इलाकों चारों धाम और हेमकुंड में शुक्रवार को बर्फबारी जारी रही। इससे ठंड का अहसास एक बार फिर बढ़ गया है। वहीं, जम्मू कश्मीर में भी उच्च पर्वतीय इलाकों में ताजा बर्फबारी और निचले क्षेत्रों में बारिश होती रही। मौसम का हाल बताने वाली निजी एजेंसी स्‍काइमेट वेदर के मुताबिक, एकबार फ‍िर पश्चिमी विक्षोभ की सक्रीयता के कारण भारत के कई इलाकों में बारिश देखी जा सकती है जबकि कुछ इलाकों में ओले भी पड़ सकते हैं। इससे किसानों की परेशानियां बढ़ सकती हैं।

उत्तराखंड में दो दिन बारिश और बर्फबारी

मौसम विभाग की ओर से जारी अलर्ट के मुता‍बिक, उत्तराखंड में देर रात से मौसम में बदलाव की संभावना है। इस बीच बदरीनाथ और केदारनाथ के साथ ही हेमकुंड साहिब में बर्फबारी का दौर जारी है। शनिवार को 3000 मीटर की ऊंचाई तक के इलाकों में बर्फबारी हो सकती है और निचले क्षेत्रों में बारिश और ओलावृष्टि के आसार बन रहे हैं। मौसम का यह मिजाज रविवार तक बना रहेगा। राज्य मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि शनिवार और रविवार को राज्य में मौसम के तेवर तल्ख हो सकते हैं। इस दौरान चमोली, रुद्रप्रयाग, उत्तरकाशी और पिथौरागढ़ में ढाई हजार से तीन हजार फीट की ऊंचाई पर हिमपात हो सकता है, जबकि निचले क्षेत्रों में ओले गिरने की आशंका है।

जम्मू-कश्मीर में तीखे हुए मौसम के तेवर

पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव के चलते शुक्रवार को जम्मू कश्मीर में मौसम के तेवर फिर से तीखे हो गए। घाटी के उच्च पर्वतीय इलाकों में ताजा बर्फबारी और निचले क्षेत्रों में बारिश होती रही। इससे ठंड फिर बढ़ गई है। जम्मू में दिनभर आसमान में बादल छाए रहे। सर्द हवाएं चलती रहीं। मौसम विभाग के अनुसार अगले 24 घंटों के दौरान मौसम के मिजाज तीखे रहने की संभावना जताई है। श्रीनगर समेत कश्मीर के निचले इलाकों में दोपहर तक आसमान बादलों से ढका रहा। दोपहर बाद यहां बूंदाबांदी शुरू हो गई। पर्यटनस्थल गुलमर्ग, सोनमर्ग, साधना टाप व अन्य उच्च पर्वतीय इलाकों में 2-6 इंच बर्फ की मोटी चादर बिछ गई है। वहीं, खराब मौसम के चलते माता वैष्णो देवी के आधार शिविर कटड़ा से चलने वाली हेलीकॉप्टर सेवा प्रभावित रही।

हिमाचल में पड़ेंगे ओले, बाकी जगहों पर ऐसा रहेगा मौसम

हिमाचल प्रदेश में शुक्रवार को दिनभर बादल छाए रहे, मगर कहीं भी बारिश नहीं हुई। मौसम विभाग ने शनिवार को जनजातीय जिला किन्नौर, लाहुल-स्पीति व कुल्लू जिले को छोड़कर बारिश और ओलावृष्टि की संभावना जताई है। विभाग ने 29 फरवरी को ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। स्‍काइमेट वेदर के मुताबिक, अगले 24 घंटों के दौरान असम, मेघालय, अरुणाचल प्रदेश में गरज चमक के साथ बारिश हो सकती है। नगालैंड और मणिपुर में कुछ इलाकों में छिटपुट बारिश दर्ज की जा सकती है। गिलगित-बल्तिस्तान, जम्‍मू-कश्‍मीर, उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश में भी बारिश होने की संभावना है। यही नहीं उत्तर पश्चिमी राजस्थान और पंजाब के कुछ हिस्सों में शनिवार शाम से एक-दो स्थानों पर हल्की बारिश दर्ज की जा सकती है। 

Posted By: Krishna Bihari Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस