नई दिल्ली, जेएनएन। उत्तर भारत में पहाड़ों पर बर्फबारी का दौर रविवार को थम गया है। कड़ाके की ठंड में सुबह से खिली चटख धूप में लोगों ने राहत की सांस ली। हालांकि मौसम विभाग की मानें तो मंगलवार से मौसम फिर परीक्षा लेगा। इस दौरान राज्य में बारिश के साथ ही 3000 मीटर की ऊंचाई तक के इलाकों में बर्फबारी की भी आशंका है। पहाड़ों पर होने वाली बर्फबारी का असर दिल्ली एनसीआर में भी देखने को मिलेगा।

सक्रिय हो रहा है एक और पश्चिमी विक्षोभ

मौसम विभाग के अनुसार, मंगलवार को जम्मू-कश्मीर की तरफ पहाड़ी क्षेत्र में एक और पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय हो रहा है। इसके असर से होली के दिन भी शाम के समय बारिश की संभावनाएं बन रही है। इस दौरान तेज हवा भी चलेगी। मंगलवार शाम से शुरू होकर तेज हवा और बारिश का दौर गुरुवार रात तक चलेगा। इस कारण तापमान भी कम रहेगा और ठंडे भी बनी रहेगी। दिल्ली एनसीआर में भी मंगलवार को दोपहर बाद हल्की बारिश हो सकती है।

15 मार्च के बाद बढ़ेगा तापमान

मौसम विभाग की मानें तो मंगलवार के बाद भी दो दिन बारिश के आसार हैं। तेज हवा के साथ होने वाली इस बारिश से तापमान में भी गिरावट आएगी और फिर से ठंडक का एहसास होगा। मौसम विज्ञानियों की मानें तो सही मायनों में 15 मार्च के बाद ही मौसम साफ होगा और इसके बाद ही तापमान बढ़ना शुरू होगा।

मार्च में दिखा दिसंबर जैसा कोहरा

इधर, दिल्ली एनसीआर समेत उत्‍तर प्रदेश के कई इलाकों में घने कोहरे के चलते लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा। कोहरे से सबसे ज्यादा दिक्कत यमुना एक्सप्रेस वे पर देखने को मिली। यहां स्पो‌र्ट्स सिटी के पास दो टूरिस्ट बस समेत कई वाहन टकरा गए। इस हादसे में छह लोग घायल हो गए। जबकि ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस वे पर पांच ट्रक आपस में टकरा गए। इसमें भी दो ट्रक चालक जख्मी हुए हैं।

बारिश से दरकी चट्टान, 13 घंटे मार्ग बंद

हादसे के बाद यमुना एक्सप्रेस-वे पर वाहनों की लंबी लाइन लग गई। वाहनों के टकराने की सूचना मिलते ही पुलिस के उच्चाधिकारियों ने मौके पर पहुंचकर घायलों को ग्रेटर नोएडा के निजी अस्पताल में भर्ती कराया। वहीं उत्तराखंड के पिथौरागढ़-टनकपुर मोटर मार्ग दो स्थानों पर बाधित हो गया। शनिवार देर रात नौ बजे आया मलबा रविवार सुबह प्रात: 10 बजे हटाया जा सका। इस दौरान मार्ग में 150 से ज्यादा वाहन फंसे रहे।

जम्मू कश्मीर में बर्फ में फंसे नौ लोगों को सेना ने बचाया

भारतीय सेना ने रविवार को जम्मू के डेरा गली-सुरनकोट मार्ग पर बर्फ के बीच फंसे नौ लोगों को वाहन से निकाल कर सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया। सेना द्वारा की गई इस कार्रवाई की स्थानीय लोगों ने काफी सराहना की। 

Posted By: Krishna Bihari Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस