नई दिल्ली, एजेंसियां। देश की राजधानी दिल्ली के कई इलाकों में रविवार को दोपहर के समय गरज के साथ हल्की बारिश हुई। शाम को भी दिल्ली के कई इलाकों में आसमान में घने बादल छा गए और गरज के साथ तेज बारिश हुई। इसके पहले दिन में मौसम विभाग ने दिल्ली-एनसीआर के कई इलाकों में और बारिश होने का अनुमान जताया था। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने कहा था कि दिल्ली व उत्तर प्रदेश के नोएडा, गाजियाबाद, मोदीनगर, छपरौला, गंगोह, यमुनानगर के आसपास के कुछ स्थानों पर गरज के साथ हल्की बारिश हो सकती है। इसके साथ ही हरियाणा के फरीदाबाद, तोशाम, हांसी, नारनौल, कुरुक्षेत्र, करनाल व कैथल के इलाकों में हल्की बारिश होने का अनुमान है।

मौसम विभाग के वरिष्ठ विज्ञानी आरेक जेनामणि ने रविवार को बताया कि अगले 24 घंटों के दौरान, जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के पूर्वी हिस्से में अलग-अलग स्थानों पर भारी बारिश और बर्फबारी हो सकती है। हिमाचल प्रदेश में आज भी बर्फबारी से मौसम प्रभावित रहेगा। मौसम विभाग इसकी निगरानी कर रहा हैं और इसके बारे में चेतावनी भी जारी की गई है। 

मध्य प्रदेश में दो दिन बाद सर्द हवाएं बढ़ाएंगी सिहरन

वर्तमान में एक पश्चिमी विक्षोभ जम्मू-काश्मीर और उसके आसपास सक्रिय है। पाकिस्तान के मध्य में एक प्रेरित चक्रवात बना हुआ है। पश्चिमी विक्षोभ के असर से जहां उत्तर भारत के पहाड़ों पर बर्फबारी शुरू हो गई है, वहीं पंजाब और राजस्थान में बारिश होने की संभावना बढ़ गई है। पाकिस्तान पर बने सिस्टम के कारण हवाओं का रुख बदल गया है। पश्चिमी, दक्षिण-पश्चिमी हवाएं चलने के कारण मध्य प्रदेश में आंशिक बादल छाने लगे हैं। इससे दिन के तापमान में तो गिरावट हो रही है, लेकिन रात के तापमान में मामूली बढ़ोतरी दर्ज होने लगी है। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक दो दिन बाद हवाओं का रुख बदलकर उत्तरी होने की संभावना है। इसके बाद बर्फीली हवाएं वातावरण में सिहरन पैदा करेंगी।

तमिलनाडु और केरल में भी जारी किया गया बारिश का अलर्ट

दक्षिण भारत के अलग-अलग स्थानों पर भी गरज के साथ भारी बारिश होने की संभावना है। सोमवार और मंगलवार को तमिलनाडु के छिटपुट स्थानों पर बारिश का अनुमान है। केरल में भी सोमवार को भारी बारिश होने का अलर्ट जारी किया गया है।

बता दें कि पिछले दिनों देश के कई राज्यों में जोरदार बारिश हुई थी। इस बारिश से सबसे ज्यादा जानमाल का नुकसान उत्तराखंड में देखने को मिला। उत्तराखंड में कई लोगों की जानें चली गई थीं। इसके साथ ही जनजीवन भी अस्त व्यस्त हो गया था।

ये भी पढ़ें- VIDEO: अब संस्कृतप्रेमियों के लिए भी कुमार विश्वास की कोई दीवाना कहता है कोई पागल समझता है कविता, आप भी सुनें

ये भी पढ़ें- Kisan Andolan: राकेश टिकैत ने बदली अपनी प्रोफाइल पिक्चर और किसानों से की ये नई अपील, जानिए अब क्या कहा?