नई दिल्ली, एजेंसियां/ब्‍यूरो। उत्तर भारत की तरफ आ रहा पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से बना चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र इस समय पंजाब पर दिख रहा है। मौसम का पूर्वानुमान बताने वाली निजी एजेंसी स्‍काईमेट वेदर ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि अगले 24 घंटों के दौरान उत्तर भारत के पहाड़ी राज्यों जम्मू कश्मीर, लद्दाख, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में हल्की से मध्यम बारिश के साथ ऊंचे पहाड़ों पर बर्फबारी हो सकती है। दिल्‍ली-एनसीआर के इलाकों में भी सोमवार और मंगलवार को हल्की बारिश होने का अनुमान है। यही नहीं गुरुवार को तेज बारिश के साथ कहीं-कहीं ओले भी पड़ सकते हैं।

यूपी में तबाही, 16 की मौत

उत्‍तर प्रदेश में शनिवार रात और रविवार को सुबह अंधड़ के साथ बारिश, ओलावृष्टि और वज्रपात के कारण जानमाल का भारी नुकसान हुआ है। जागरण न्‍यूज नेटवर्क की रिपोर्ट के मुताबिक, गेहूं की खड़ी और खलिहान में पड़ी कट चुकी फसल के साथ ही आम की फसल बड़े पैमाने पर बर्बाद हो गई है। यही नहीं उत्‍तर प्रदेश में वज्रपात से 16 लोगों की मौत हो गई है जबकि कई लोग घायल हो गए हैं। गोरखपुर, देवरिया, आंबेडकरनगर, चित्रकूट, प्रयागराज, कौशांबी, आजमगढ़, शामली, बुलंदशहर, मेरठ, सहारनपुर, बागपत और आसपास के जिलों में कहीं आंधी तो गरज-चमक के साथ बारिश और ओले पड़ने से कई लोगों की मौत हो गई जबकि फसलों को भारी नुकसान पहुंचा है।

दिल्‍ली-एनसीआर में ऐसा रहेगा मौसम

मौसम विभाग की मानें तो दिल्‍ली एनसीआर के इलाकों में गर्मी की चुभन के साथ नरमी का दौर भी चार दिन तक बना रहेगा। पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से सोमवार को आंशिक तौर पर बादल छाए रहेंगे। विभाग की ओर से जारी अलर्ट में कहा गया है कि 25 से 30 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलेंगी और हल्की बारिश होने भी हो सकती है। मंगलवार को भी ऐसी ही स्थिति बनी रहेगी। इसके बाद गुरुवार को भी बादल छाए रहेंगे। इस दिन तेज हवा के साथ बारिश और कहीं-कहीं ओलावृष्टि भी हो सकती है। पाकिस्तान की ओर से आई धूल के कारण पिछले कई दिनों से दिल्ली-एनसीआर के एयर क्वालिटी इंडेक्स (एक्यूआइ) में जो थोड़ा इजाफा हुआ था, उसे बारिश ने साफ कर दिया है।

पूर्वोत्‍तर समेत इन राज्‍यों में अलर्ट, मिजोरम में बर्बादी

पीटीआइ की रिपोर्ट के मुताबिक, मिजोरम में तेज हवा और गरज चमक के साथ हुई ओलावृष्टि में 180 मकान नष्‍ट हो गए हैं जबकि चार महीने के एक बच्‍चे की मौत हो गई है। राज्‍य आपदा प्रबंधन विभाग की मानें तो आंधी पानी में 35 घर तो पूरी तरह नष्‍ट हो गए जबकि 148 मकानों को नुकसान पहुंचा है। स्‍काईमेट वेदर की रिपोर्ट के मुताबिक, अगले 24 घंटों के दौरान भी पूर्वोत्तर भारत के राज्यों में कहीं जगहों पर मध्यम से तेज बारिश जारी रहने की संभावना है। गंगीय पश्चिम बंगाल, आंध्र प्रदेश, केरल, आंतरिक कर्नाटक, तमिलनाडु, दक्षिणी-मध्य महाराष्ट्र और मराठवाड़ा में अलग अलग इलाकों में छिटपुट बारिश का पूर्वानुमान है।

पहाड़ों पर बर्फबारी के साथ मैदानों में बारिश के आसार

स्‍काईमेट वेदर के मुताबिक, उत्तर भारत के पहाड़ी राज्यों जम्मू कश्मीर, लद्दाख, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में हल्की से मध्यम बारिश के साथ ऊंचे पहाड़ों पर हल्की बर्फबारी हो सकती है। वहीं दक्षिण-पूर्वी मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, तेलंगाना और ओडिशा में कुछ स्थानों पर बादलों की गरज चमक के साथ हल्की से मध्यम बारिश का अलर्ट है। चूंकि पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से बना चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र मौजूदा वक्‍त में पंजाब पर दिख रहा है और इससे एक ट्रफ उत्तर प्रदेश होते हुए बिहार तक बन रही है। इस वजह से पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, दिल्ली और पश्चिम उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों में अगले 24 घंटों में धूलभरी आंधी के साथ छिटपुट बारिश के भी आसार हैं।

Posted By: Krishna Bihari Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस