नई दिल्ली, जेएनएन। पिछले कुछ समय से कोरोना वायरस को लेकर पूरी दुनिया में चर्चा चल रही है। चीन में हालात काफी बदतर हैं। कोरोना वायरस (कोविड-19) के चलते चीन के कुछ शहरों में लगातार कर्फ्यू जैसा माहौल है। लोग घरों से बाहर नहीं निकल पा रहे हैं। पड़ोसी देश होने की वजह से भारत में भी इसको लेकर लोगों के बीच चिंता है। इस बीच सोशल मीडिया पर वायरल हो रहीं फर्जी/गलत सूचनाओं के कारण डर बढ़ रहा है। 

सोशल मीडिया समेत अन्‍य माध्‍यमों के जरिए फैल रही अफवाहों के चलते लोग सच्चाई से दूर हैं। ऐसे में अब इन अफवाहों से लड़ने के लिए 'विश्वास न्यूज' ने कैंपेन शुरू किया है। 'सच के साथी- हेल्‍थ फैक्ट चेक' नाम के इस कैंपेन के माध्यम से लोगों को बताया जा रहा है कि सही तथ्य क्या है और गलत क्या है। 'विश्वास न्यूज' ने फेसबुक के साथ मिलकर स्वास्थ्य से जुड़ी अफवाह-भ्रामक सूचनाओं के खिलाफ इस कैपेंन की शुरुआत की है। 

एक के बाद एक शहर में लोगों को हेल्‍थ से जुड़ी फर्जी/गलत सूचनाओं की पहचान करने की ट्रेनिंग दी जा रही है। सोमवार को 'विश्वास न्यूज' का कैंपेन उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ पहुंचा। यहां दो अलग-अलग सत्रों में वर्कशॉप का आयोजन कराया गया और लोगों को जागरूक किया गया। पहले सत्र में युवाओं ने भाग लिया, तो दूसरे सत्र में महिलाएं और वरिष्ठ नागरिकों ने ट्रेंनिग ली। लोगों में इस वर्कशॉप को लेकर उत्साह भी देखा गया। 

कार्यक्रम के दौरान 'जागरण न्‍यू मीडिया' और 'विश्‍वास न्‍यूज' के सीनियर एडिटर प्रत्‍यूष रंजन के साथ वरिष्‍ठ सहयोगी उर्वशी कपूर ने भी प्रतिभागियों की जिज्ञासाओं का विस्‍तार से जवाब दिया। लोगों को कोरोना वायरस को लेकर फैल रही अफवाहों से बचने की सलाह दी। साथ ही साथ बताया कि अपने सोशल सर्किल के लोगों को भी इसके बारे में जागरूक करें।  वहीं, इससे पहले विश्वास न्यूज के इस कैंपेन के तहत दिल्ली, भोपाल और चंडीगढ़ में वर्कशॉप का आयोजन हो चुका है। लखनऊ के बाद अब पटना और वाराणसी की बारी है। 

 

Posted By: Rajat Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस