नईदुनिया, जगदलपुर : छत्तीसगढ़ से सटे पड़ोसी राज्य आंध्र प्रदेश के विशाखापत्तनम जिले के डुम्बरीगुड़ा- लिप्पिटीपुट्टम इलाके में तेलुगु देसम पार्टी (तेदेपा) के वर्तमान विधायक सर्वेश्वर राव व पूर्व विधायक सिवेरी सोमा की नक्सलियों ने रविवार दोपहर गोली मारकर हत्या कर दी। दोनों क्षेत्र में आयोजित एक कार्यक्रम से लौट रहे थे। इस घटना के बाद छत्तीसगढ़ पुलिस ने बस्तर समेत सभी नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में अलर्ट जारी कर दिया है।

खुफिया इनपुट पर यहां भी जनप्रतिनिधियों की सुरक्षा बढ़ाए जाने की तैयारी तेज हो गई है।आंध्र प्रदेश में सत्तारूढ़ तेदेपा के विधायक सर्वेश्वर राव अरकू सीट से विधायक थे। वहीं सिवेरी सोमा इसी क्षेत्र से पूर्व विधायक रहे हैं। दोनों नेता विशाखापत्तनम से 125 किमी दूर लिप्पिटीपुट्टम गांव में आयोजित कार्यक्रम में शिरकत कर लौट रहे थे।

तभी 50-60 की संख्या में हथियारबंद नक्सलियों ने उन्हें रोक लिया। नक्सलियों ने दोनों नेताओं पर अंधाधुंध फायरिंग कर शरीर छलनी कर दिया जिससे मौके पर ही दोनों की मौत हो गई। घटना के बाद नक्सलियों द्वारा उनके गनमैन को भी अगवा कर साथ ले जाने की खबर है।

]हालांकि, इसकी पुष्टि नहीं हो सकी है। प्रशासन अभी गनर को लापता बता रहा है। विधायक राव अरकू से वाइएसआर कांग्रेस पार्टी के टिकट पर 2014 में चुनाव जीते थे। उन्होंने सोमा को हराया था। 2016 में राव तेदेपा में शामिल हो गए थे।

इस साल के आरंभ में नक्सलियों ने विधायक राव के खिलाफ प्रदर्शन किया था। उनका आरोप था कि राव ने अपने साले के नाम से खनन लीज ली है। उनका यह भी कहना था कि गुडा गांव में ब्लैक स्टोन के खनन से आदिवासियों के घर कमजोर हो रहे हैं। 
 

 

Posted By: Jagran News Network

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस