जागरण ब्यूरो, नई दिल्ली। भाजपा संसदीय दल की बैठक में भी 'दैनिक जागरण' चर्चा में आ गया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मौजूदगी में हो रही बैठक में संसदीय कार्यमंत्री एम. वेंकैया नायडू ने सभी सांसदों को निर्देश दिया कि 'दैनिक जागरण' में छपे प्रधानमंत्री के साक्षात्कार को पढें, उसे समझें और उसी आधार पर अपने-अपने क्षेत्र में जवाब भी दें। मंत्रालय की ओर से सभी पार्टी सांसदों को साक्षात्कार का लिंक भेजा गया है। ध्यान रहे कि सोमवार को खुद प्रधानमंत्री ने भी वह लिंक अपने व्यक्तिगत अकाउंट से ट्वीट किया था।

मंगलवार को होने वाली संसदीय दल की बैठक इस सत्र की आखिरी बैठक थी। अगले एक पखवाड़े में सरकार एक साल का कार्यकाल भी पूरा कर रही है। लिहाजा बैठक मुख्यत: उसी मुद्दे के आसपास रही। लगभग 45 मिनट की बैठक में कई बार मेज थपथपाई गई और प्रधानमंत्री को बधाई दी गई। लगभग आधे घंटे के भाषण में प्रधानमंत्री ने सरकार की ओर से किए गए कामकाज के कारण होने वाले बदलाव का जिक्र करते हुए कहा कि बाहर विरोधी भ्रम फैला रहे हैं।

मीडिया में भी कुछ लोग गलत तरीके से तथ्य पेश कर रहे हैं। लेकिन घबराने की जरूरत नहीं है। उन्होंने कहा कि मैं 14 साल तक मीडिया के कुछ वर्ग को झेल चुका हूं। उनसे नहीं डिगा। आपको भी परेशान होने की जरूरत नहीं है। सिर ऊंचा किए रहें कि उनकी सरकार लोक कल्याण में अच्छा काम कर रही है। जरूरत है तो लोगों को सच्चाई बताने की। देश को भ्रष्टाचार से मुक्त शासन देने की कोशिश हुई है। यही कारण है कि केंद्र में राजग सरकार आने से पहले जबकि भ्रष्टाचार सबसे बड़ी खबर होती थी, अभी इसका नामो-निशान नहीं है।

बैठक के बाद संसदीय कार्य राज्यमंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने बताया कि सरकार के एक साल पूरा होने पर एक सप्ताह तक अलग-अलग क्षेत्रों में भाजपा नेता जाएंगे। सरकार की उपलब्धियों को बताया जाएगा। सांसद अपने क्षेत्रों में आम लोगों तक पहुंचने की कोशिश करेंगे।

पढ़ेंः 'जागरण' को दिए इंटरव्यू को पीएम ने किया सोशल मीडिया पर शेयर

पढ़ेंः EXCLUSIVE : दबाव नहीं, बढ़ रही काम की उमंगः मोदी

Posted By: manoj yadav

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप