नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। पानी और कोल्ड ड्रिंक पीने के बाद यदि आप बोतल और केन यहां वहां फेंकने जा रहे हैं तो जरा ठहरिये। पानी की बोतल और केन आपको ना केवल 20 मिनट तक फ्री वाईफाई की सुविधा दिला सकती है बल्कि मोबाइल रिचार्ज कूपन और होटलों में डिस्काउंट भी।

दरअसल, दिल्ली नगर पालिका परिषद ने पालिका बाजार गेट नंबर 2 पर रिवर्स वेंडिंग मशीन लगाई है। जिसमें केन और प्लास्टिक डालने पर इनाम मिलेगा। बृहस्पतिवार को शहरी विकास मंत्री वेंकैया नायडू ने रिमोट द्वारा रिवर्स वेंडिंग मशीन का उद्घाटन किया।

स्वच्छता रैंकिंग में सुधार की कोशिश

गत वर्ष स्वच्छ भारत रैंकिंग में एनडीएमसी को चौथा स्थान मिला था। रैंकिंग विश्लेषण के दौरान बाजारों, पार्को में प्लास्टिक बोतलों और केन पर लोगों की नकारात्मक राय भी पहला स्थान पाने के बीच रोड़ा बनी। ऐसे में वर्ष 2017 में स्वच्छता रैंकिंग में अपनी स्थिति सुधारने की कवायद के तहत बाजारों में रिवर्स वेंडिंग मशीन लगाई गई हैं।

वाईफाई कूपन, मोबाइल रिचार्ज कूपन भी

एनडीएमसी सेक्रेटरी चंचल यादव ने बताया कि एटीएम की तरह दिखती यह एक अत्याधुनिक मशीन है। जिसमें एलईडी लाइट और डिस्पले मॉनिटर लगा है। इस रिवर्स वेंडिग मशीन को पालिका परिषद ने जनता के व्यवहार, प्रवृत्ति और मानसिकता में बदलाव लाने के लिए लगाया है, जिससे जनता प्लास्टिक की खाली बोतल या केन इस रिवर्स वेंडिग मशीन में डाले और बदले में इनाम पाए। अधिकारी की माने तो इनाम डिस्काउंट कूपन(होटलों, जनरल स्टोर आदि), वाईफाई कूपन, डायरी, पेन समेत 5 रुपये से लेकर 50 रुपये तक का मोबाइल रिचार्ज कूपन मिलेगा। मशीन की क्षमता 600 बोतलों की है। बोतल इकक्ठा होने के बाद तत्काल खाली किया जाएगा एवं फिर रिसाइकिल के लिए भेजा जाएगा।

20 और बाजारों में लगेंगी ऐसी मशीनें

अधिकारी कहते हैं कनॉट प्लेस में अभी तीन और रिवर्स वेंडिंग मशीनें लगेंगी। इसके अलावा खान मार्केट, बंगाली मार्केट, सरोजनी नगर, गोल मार्केट समेत अन्य जगहों पर 17 रिवर्स वेंडिंग मशीनें लगेंगी। साथ ही इन जगहों पर जागरूकता कार्यक्रमों का आयोजन कर लोगों को प्लास्टिक की बोतलें सिर्फ रिवर्स मशीन में डालने की गुजारिश की जाएगी।

101 स्मार्ट पब्लिक टायलेट बनाएगी एनडीएमसी

एनडीएमसी सचिव चंचल यादव ने बताया कि 101 स्मार्ट टायलेट बनाए जाएंगे। जिसमें से 5 टायलेट बन चुके हैं, जिसका उद्घाटन बृहस्पतिवार को केन्द्रीय मंत्री वेंकैया नायडू ने किया। जबकि 12 टायलेट जनवरी महीने में तैयार हो जाएंगे। बाकि टायलेट जून 2017 के अंत तक बन जाएंगे। इस दौरान केन्द्रीय मंत्री ने एनडीएमसी को खुले में शौच मुक्त शहर का प्रमाण पत्र भी सौंपा। साथ ही स्वच्छता सेवकों के लिए नई ड्रेस भी लांच की गई। ड्रेस की खासियत है कि रात के अंधेरे में उजाला पड़ते ही चमकने लगेगी।

FLASHBACK 2016 : तकनीक का सहारा, परेशानियों से लोगों को मिला छुटकारा

Posted By: Manish Negi