काबुल, एएनआइ। अमेरिका ने अफगानिस्तान में आतंकी ठिकानों पर हवाई हमले जारी रखने की बात कही है। न्यूज इंटरनेशनल ने विदेश विभाग के एक प्रवक्ता के हवाले से बताया कि अमेरिकी बलों की वापसी के बाद अगर युद्ध प्रभावित इस देश में आतंकी शिविर पाए गए तो बाइडन प्रशासन तत्काल कदम उठाएगा।

अफगानिस्तान में संघर्ष बढ़ा

बता दें कि अमेरिकी बलों की वापसी शुरू होने के बाद से ही अफगानिस्तान में संघर्ष बढ़ गया है। टोलो न्यूज के अनुसार, गत चार माह के दौरान अफगान सुरक्षा बलों के साथ संघर्ष में 24 हजार तालिबान आतंकी मारे गए और घायल हुए। गत अप्रैल से जुलाई के दौरान तालिबान ने देशभर में करीब 22 हजार हमले किए।

अमेरिका बोला, सकारात्मक भूमिका निभाए पाकिस्तान

अमेरिकी विदेश विभाग के प्रवक्ता ने कहा कि अफगानिस्तान में हिंसा कम करने में पाकिस्तान सकारात्मक भूमिका निभाए। अफगान समस्या का समाधान संघर्ष से निकल नहीं सकता। पाकिस्तान भी अफगानिस्तान में गृहयुद्ध देखना नहीं चाहेगा। क्योंकि यह उसके हित में नहीं होगा।

दोहा में होगी अफगान मसले पर चर्चा

अमेरिका, रूस, चीन और पाकिस्तान के प्रतिनिधि इस माह कतर की राजधानी दोहा में मिलेंगे और अफगान मसले पर चर्चा करेंगे। एक्सप्रेस ट्रिब्यून अखबार ने अफगानिस्तान में रूसी राजदूत जमीर काबुलोव के हवाले से यह जानकारी दी है।