नई दिल्‍ली, जेएनएन। अगर आपका अकाउंट देश के सबसे बड़े बैंक 'स्‍टेट बैंक ऑफ इंडिया' में है, तो आपके लिए अच्‍छी खबर नहीं है। ऐसा हो सकता है कि आपके अकाउंट की जानकारी हैकरों के हाथों में पहुंच गई हो। टेकक्रंच की एक रिपोर्ट के मुताबिक, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया अपने सर्वर को सुरक्षित करना भूल गया था जिसके कारण लाखों लोगों के बैंक की जानकारी लीक हो सकती है।

जानकारों की सलाह है कि ऐसे में आपको तुरंत अपना इंटरनेट बैंकिंग पासवर्ड बदल लेना चाहिए। हालांकि, अब बैंक का दावा है कि उसने अपने सर्वर को सुरक्षित कर लिया है। लेकिन ये नहीं बताया कि सर्वर को सुरक्षित करने से पहले कितने खातों की जानकारी लीक हुई होगी। वैसे सीबीआइ के बयान से एक बात तो साफ हो गई कि उससे एक बड़ी चूक हुई थी। टेकक्रंच की रिपोर्ट में यह दावा किया गया कि जिस समय एसबीआइ के सर्वर पर पासवर्ड नहीं लगा था, तभी बैंक के ग्राहकों को मैसेज भेजे जा रहे थे और सिर्फ सोमवार को बैंक की ओर से ग्राहकों को करीब 30 लाख मैसेज भेजे गए हैं। इनमें उनके खातों से जुड़ी जानकारी भी शामिल है। इस मामले पर स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने अपने एक बयान में कहा है कि अब सर्वर को पासवर्ड के जरिए सुरक्षित कर लिया गया है।

बता दें कि अमेरिकन ऑनलाइन पब्लिशर्स टेकक्रंच की एक रिपोर्ट के मुताबिक, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया से हाल ही में एक बड़ी चूक हुई। बैंक अपने सर्वर को सुरक्षित करना भूल गया था, जिसके कारण लाखों लोगों के बैंक की जानकारी लीक हो सकती है। रिपोर्ट में दावा किया गया है कि बैंक ने अपने सर्वर को बिना पासवर्ड का ही छोड़ दिया था। ऐसे में कोई भी बैंक के ग्राहकों की निजी जानकारी को हासिल कर सकता है और यह भी संभव है कि लोगों की जानकारी लीक भी हो गई हो।

गौरतलब है कि एसबीआइ क्विक सर्विस के जरिए ग्राहक मिस्ड कॉल के जरिए बैंक बैलेंस, मिनी स्टेटमेंट आदि की जानकारी लेते हैं। हालांकि, इस बात का अभी खुलासा नहीं हुआ है कि सर्वर कितने दिनों तक बिना पासवर्ड का रहा है।

 

Edited By: Tilak Raj