नई दिल्ली, प्रेट्र। नियमित अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर पाबंदी फिलहाल 31 अक्टूबर तक बढ़ा दी गई है। यह जानकारी बुधवार को नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने दी। नागरिक उड्डयन महानिदेशक ने बताया कि कुछ खास मामलों में चुनिंदा रूट पर अंतरराष्ट्रीय उड़ानों की इजाजत दी जा सकती है। उल्लेखनीय है कोरोना के कारण 23 मार्च से अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर पाबंदी लगी हुई है।

हालांकि मई से वंदे भारत अभियान के तहत विदेश में फंसे भारतीय नागरिकों को लाने का काम चल रहा है। वहीं जुलाई से कुछ देशों के साथ 'एयर बबल' सिद्धांत पर सीधी उड़ानों का परिचालन किया जा रहा है। अमेरिका, इंग्लैंड, फ्रांस, यूएई, समेत 15 देशों के बीच इसी समझौते के अनुसार सीधी उड़ानें संचालित हो रही हैं। उधर नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप पुरी ने बताया कि हाल ही में दो देशों केन्या और भूटान के साथ 'एयर बबल' सिद्धांत के अनुसार उड़ानें संचालित करने का समझौता हुआ है। उन्होंने बताया 17 सितंबर तक 13 देशों के साथ भारत का इस तरह का समझौता था जो बढ़कर अब 15 देशों के साथ हो गया है। 

अब नए टर्मिनल से मिलेंगी गोएयर की उड़ानें 

अगर आप आने वाले दिनों में गोएयर के विमान से दिल्ली से किसी अन्य स्थान के लिए यात्रा करने वाले हैं तो यह खबर आपके लिए बेहद काम की है। गोएयर ने पहली अक्टूबर से दिल्ली से जाने और आने वाली सभी उड़ानों का परिचालन हवाईअड्डे की टर्मिनल संख्या दो से करने का फैसला किया है।

ज्ञात हो कि अंतरराष्ट्रीय उड़ानों और कंटेनमेंट जोन को छोड़कर पूरे देश में सारी गतिविधियां अगले पंद्रह दिनों में खुल जाएगी। 15 अक्टूबर से सिनेमा हॉल, व्यापार मेला, स्वीमिंग पूल और इंटरटेनमेंट पार्क को भी कुछ शर्तों के साथ खोलने की अनुमति होगी। कोरोना के कारण बंद गतिविधियों को खोलने के लिए जारी गाइडलाइन्स में गृहमंत्रालय ने इस बार स्कूलों, कॉलेजों और कोचिंग संस्थानों को भी खोलने की अनुमति दे दी है, लेकिन इस पर फैसला राज्यों पर छोड़ दिया गया है। 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस