नई दिल्ली, प्रेट्र। विदेश राज्यमंत्री वी. मुरलीधरन ने सोमवार को कहा कि अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के उपलक्ष्य में दो पासपोर्ट सेवा केंद्रों को ऐसे केंद्र के तौर पर बदला जाएगा जहां सभी कर्मी महिलाएं होंगी। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि पुरुषों और महिलाओं के बीच संतुलन बनाने के लिए सरकार लगातार काम कर रही है।

विदेश मंत्रालय ने कहा- सभी महिला कर्मचारी वाले केंद्र दिल्ली और केरल में होंगे

विदेश मंत्रालय ने कहा है कि सभी महिला कर्मचारी वाला एक केंद्र नई दिल्ली के आरके पुरम में और दूसरा केंद्र केरल के कोचीन में त्रिपुनितुरा में होगा। पासपोर्ट सेवा कार्यक्रम सरकार के सबसे सफल कार्यक्रमों में से एक है। इसके जरिये भारत के नागरिकों और देश के बाहर रह रहे भारतीय नागरिकों को पासपोर्ट संबंधी सेवाएं दी जाती हैं।

पासपोर्ट के लिए डिजिटल व्यवस्था

मंत्रालय ने कहा है कि यह कार्यक्रम डिजिटल भारत के दृष्टिकोण के अनुरूप है जिसका मकसद सभी हितधारकों के लिए एक डिजिटल व्यवस्था तैयार करना है जहां नागरिकों को पासपोर्ट संबंधी सेवाएं घर पर मिले।

पासपोर्ट सेवा आपूर्ति में गुणात्मक और गुणवत्तापूर्ण बदलाव

मंत्रालय ने पासपोर्ट सेवा आपूर्ति में गुणात्मक और गुणवत्तापूर्ण बदलाव लाने के लिए कई कदम उठाए हैं। मौजूदा 36 पासपोर्ट कार्यालयों के अलावा 93 पासपोर्ट केंद्र और 426 डाकघर पासपोर्ट सेवा केंद्र बनाए गए हैं। इसके अलावा विदेश में 190 भारतीय मिशन के लिए भी कार्यक्रम को विस्तारित किया गया। 

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021